मशीन की तरह झूठ बोलते हैं कुछ विपक्षी नेता: पीएम मोदी

0 196
बुलंदशहर,। शनिवार को नुमाइश मैदान स्थित रविंद्र नाट्यशाला सभागार में प्रधानमंत्री ने नमो एप के माध्यम से कार्यकर्ताओं में जोश भरा और बूथ अध्यक्षों से सीधा संवाद किया।
पीएम ने कार्यकर्ताओं को चार वर्षों के विकास का ब्योरा पेश करते हुए कहा कि एक कदम बढ़ाया तो सवा सौ करोड़ कदमों से देश प्रगति की ओर बढ़ गया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि
कार्यकर्ता पार्टी की महत्वपूर्ण नींव होता है। लाखों करोड़ों मेहनतकश समर्पित कार्यकर्ताओं ने भाजपा को सींचा है। समर्पित कार्यकर्ताओं व संकल्प का परिणाम ही जीत होता है।
मोदी ने कहा कि पहले कार्यकर्ताओं पर दीवारों पर पोस्टर चिपकाने व घर-घर जाकर पार्टी का प्रचार करने की जिम्मेदारी होती थी लेकिन अब मोबाइल पर पोस्टर पहुंचाने की जिम्मेदारी भी है। नए और पुराने साधनों को साथ लेकर पार्टी का प्रचार करना होगा।
उन्होंने कार्यकर्ताओं से नमो एप को मोबाइल में डाउनलोड कर सरकारी योजनाओं के साथ देश व स्थानीय मुद्दों की बारीकी से जानकारी कर अपने मित्रों व परिचितों को शेयर करने का मंत्र दिया।
विपक्ष पर हमला करते हुए मोदी ने कहा कि विपक्ष झूठ बोलकर लोगों को गुमराह करना चाहता है, लेकिन अब झूठ नहीं चलता।  विपक्षी दलों के कुछ नेता तो झूठ बोलने की मशीन बन गए हैं, वे जब भी बोलते है तो झूठ ही बोलते हैं।
इसी झूठ से जनता को बेनकाब करना है और सरकारी योजनाओं को घर-घर पहुंचाना है। उन्होंने-मेरा बूथ सबसे मजबूत- का नारा देते हुए कार्यकर्ताओं को मजबूती के साथ पार्टी के लिए काम करने पर जोर दिया।
प्रधानमंत्री ने चार साल के कार्यकाल में सरकारी की उपलब्धियों की जानकारी देते हुए कहा कि जब सरकार की नीयत ठीक हो तो जनता का साथ मिलता है और सफलता प्राप्त होती है।
गांव कुंवरपुर के बूथ अध्यक्ष विपिन राघव ने प्रधानमंत्री से पूछा कि ‘बूथ स्तर का कार्यकर्ता कैसा होना चाहिए?’ जवाब में प्रधानमंत्री ने कहा कि बिल्कुल आपके जैसा होना चाहिए।
भारत माता की जय-जयकार का संकल्प लेने वाला होना चाहिए। एक अन्य बूथ अध्यक्ष ममता सैनी ने प्रधानमंत्री से कहा कि
‘चार वर्षों में इतना विकास कैसे हुआ?’ जवाब में प्रधानमंत्री ने कहा कि एक कदम बढ़ाया तो सवा सौ करोड़ कदमों से देश प्रगति की ओर बढ़ गया। 
यह भी पढ़ें: लालू से मिलकर रोते हुए निकले तेजप्रताप

Leave A Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More