इस बार जलाएं राम नाम का दीया,दीवाली बाद शुरू होगा काम: CM योगी

0 403
राजस्थान,। योगी आदित्यनाथ ने राजस्थान में एक चुनावी रैली में कहा कि राम मंदिर निर्माण का काम जल्द शुरू होगा। योगी ने देश भर के लोगों से अपील की है कि इस बार अपने घरों में प्रभु राम के नाम का एक दीपक जलाएं। दिवाली बाद काम शुरू होगा। 

 

राजस्थान के बीकानेर में एक चुनावी रैली में योगी आदित्यनाथ ने कहा कि धर्मस्थल उपासना के नहीं, बल्कि राष्ट्रीय एकात्मकता के भी स्थल हैं और प्रत्येक नागरिक के लिए धर्मस्थल खुले रहने चाहिए,
यह आज के समय की जरूरत है। योगी ने बीकानेर में श्रीनवलेश्वर मठ सिद्धपीठ में योगी श्रीमत्स्येंद्रनाथ, योगी गुरु गोरक्षनाथ और भगवान आदित्यदेव की प्रतिमाओं का अनावरण किया।
लोगों को संबोधित करते हुए आदित्यनाथ ने कहा कि नाथ संप्रदाय परंपरा ने भी समाज को नई दिशा देने में बड़ी भूमिका निभाई है। सीएम ने महापुरुषों के जीवन को अनुकरणीय बताया और कहा कि भगवान श्रीराम का जीवन आदर्शमय रहा है।
गौरतलब है कि इससे पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि राम मंदिर देश एवं दुनिया के करोड़ों लोगों के आस्था से जुड़ा मुद्दा है। यह देश खासकर उप्र के शांति, सौहार्द, विकास और शांति व्यवस्था से भी जुड़ा मसला है।
मैं चाहता हूं कि सर्वसम्मत से इसका हल निकले तो बेहतर, अन्यथा और भी विकल्प हैं। सरकारी आवास पर मीडिया से बातचीत में योगी ने कहा कि
सुप्रीमकोर्ट देश के 125 करोड़ लोगों के भरोसे का प्रतीक है। लोग हर जगह से थक-हार कर वहां शीघ्र इंसाफ के लिए जाते हैं। उनकी उम्मीद पूरी होनी चाहिए।
इस दीपोत्सव को अयोध्या को खास सौगात मिलना तय है। उस दिन वहां खास अतिथि के रूप में आ रहीं दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति की पत्नी किम जुंग-सू कोरिया की रानी हियो ह्वांग की याद में 50 करोड़ की लागत से बनने वाले स्मारक की बुनियाद रखेंगी।
यह स्मारक दोनों देशों के प्राचीन रिश्ते को याद दिलाता रहेगा। माना जाता है कि रानी हियो अयोध्या की राजकुमारी थीं। उनका मूल नाम सूरीरत्ना था।

कोरिया के राजकुमार किम सूरो से शादी करने के बाद उनका नया नाम पड़ा। इसके अलावा मुख्यमंत्री भी अयोध्या के विकास के लिए बड़ी सौगात दे सकते हैं।
अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर सियासत गर्म है। इसी क्रम में इस बार केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने भी कहा है कि अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए उनसे जो बन पड़ेगा वह करने के लिए तैयार हैं।
उन्होंने कहा कि राम मंदिर का निर्माण उनका सपना है। बता दें कि बीते कुछ दिनों से यह मांग उठ रही है कि
राम मंदिर बनाने के लिए सरकार को अध्यादेश लाना चाहिए। हालांकि, यह मामला अभी सुप्रीम कोर्ट में विचाराधीन है और जनवरी में इस पर सुनवाई होगी।
उमा भारती ने कहा कि मैं राम जन्‍मभूमि आंदोलन में सक्रिय रूप से शामिल थी। उससे जुड़े एक मामले की सुनवाई अभी भी चल रही है।
यह भी पढ़ें: आज खुलेगा भगवान अयप्‍पा के मंदिर का कपाट, पुलिस ने कर लिया है कब्जा
मुझे इस पर गर्व है। राम मंदिर का निर्माण मेरा सपना है, इसके लिए मेरी ओर से जिस पहल की आवश्‍यकता होगी, मैं करने को तैयार हूं।

Leave A Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More