दिल्ली-NCR में हवा हुई जहरीली, छाया धुएं का गुबार

0 170
नई दिल्ली,। सुप्रीम कोर्ट के सख्त आदेशों के चलते कम आतिशबाजी हुई हो, बावजूद इसके कम हुई आतिशबाजी से भी निकली जहरीली गैसों, कार्बन के कणों व धूल ने पर्यावरण को भारी नुकसान पहुंचाया है।

 

दिवाली के अगले दिन यानी बृहस्पतिवार को दिल्ली के कई इलाकों में एयर क्वालिटी इंडेक्स (AIQ) बेहद खतरनाक स्तर पहुंच गया है। 
यही हाल एनसीआर के इलाकों गाजियाबाद, नोएडा, गुरुग्राम, फरीदाबाद, सोनीपत आदि का भी रहा। यहां भी हवा में जहरीली हवा लोगों को परेशान कर रही है। ऐसे में प्रदूषण से बचने के लिए मास्क लगा कर चलना मज़बूरी बन गई है।
बृहस्पतिवार सुबह जारी आकड़ों के मुताबिक, दिल्ली के आनंंद विहार इलाके में 999, दूतावास के इलाकों, चाणक्यपुरी में 459 रहा और मेजर ध्यानचंद नेशनल स्टेडियम के पास 999 रहा। लोगों के स्वास्थ्य खास बुजुर्गों और बच्चों के मद्देनजर यह बेहद खतरनाक माना जाता है। 

दिल्ली में बुधवार रात दस बजे AIQ 296 दर्ज किया गया। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के अनुसार शाम सात बजे एक्यूआई 281 था।
रात आठ बजे यह बढ़कर 291 और रात नौ बजे यह 294 हो गया। हालांकि, केंद्र की ओर से चलाए गए सिस्टम ऑफ एयर क्वालिटी फोरकास्टिंग एंड रिसर्च (सफर) ने समग्र एक्यूआई 319 दर्ज किया जो ‘बेहद खराब’ की श्रेणी में आता है।
प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के मुताबिक, एयर क्वालिटी इंडेक्स 0-50 तक होने पर हवा को ‘अच्छा’, 51-100 होने पर ‘संतोषजनक’, 101-200 के बीच ‘सामान्य’, 201-300 से
‘खराब’, 301-400 तक ‘बहुत खराब’ और 401-500 के बीच को ‘खतरनाक’ श्रेणी में रखा जाता है। फिलहाल दिल्ली के कई इलाकों में एयर क्वालिटी इंडेक्स 900 के पार चला गया है।

हालांकि, इस बार दिवाली पर माननीय सुप्रीम कोर्ट के आदेश का जबरदस्त असर दिखा और दिल्ली-एनसीआर में लोगों ने कम पटाखे फोड़े।

बावजूद इसके प्रदूषण दिवाली के अगले दिन बढ़ गया। बुधवार को भी दिनभर दिल्ली में वायु प्रदूषण का स्तर बेहद खराब बना रहा।
वहीं, कम पटाखे फोड़ने जाने के बावजूद बुधवार को रात नौ बजे के बाद इसकी श्रेणी खतरनाक हो गई।
संयुक्त राष्ट्र ने दिवाली के अवसर पर एक विशेष डाक टिकट जारी किया। इस डाक टिकट को संयुक्त राष्ट्र डाक टिकट प्रशासन ने जारी किया। 
गौरतलब है कि दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण को देखते हुए कोर्ट ने अपने एक आदेश में कहा था कि
यह भी पढ़ें: जमकर फूटे पटाखे,लोगों ने सुप्रीम कोर्ट के आदेश की उड़ाईं धज्जियां, करीब 100 लोग गिरफ्तार
दिवाली के दिन रात आठ बजे से दस बजे तक निर्धारित स्थलों पर ही हरित पटाखे फोड़े जाएंगे।

Leave A Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More