टूट गई इनेलो: अजय चौटाला का ऐलान बनाएंगे नई पार्टी, चुनाव चिह्न और पार्टी दिया भाई को तोहफा

0 183
हाल ही में पार्टी अध्यक्ष ओमप्रकाश चौटाला ने बेटे अजय चौटाला को पार्टी से निष्कासित कर दिया था। उससे पहले दोनों पोतों को भी अनुशासनहीनता के आरोप में ओपी चौटाला ने पार्टी से बाहर कर दिया था।
हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री ओम प्रकाश चौटाला के बड़े बेटे अजय सिंह चौटाला ने नयी पार्टी बनाने का एलान किया है। शनिवार (17 नवंबर) को अजय चौटाला ने जींद में संवाददाताओं से कहा,
‘‘मैं इनेलो और पार्टी का चुनाव चिह्न तोहफे में अपने छोटे भाई को देता हूं।’’ इस घोषणा के साथ ही इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) में वर्चस्व के लिए जारी संघर्ष का अंत हो गया है।
पिछले कुछ महीनों से इनेलो और चौटाला परिवार में ओम प्रकाश चौटाला के दोनों बेटों के बीच वर्चस्व को लेकर जंग जारी थी। शनिवार को अजय चौटाला और उनके छोटे भाई अभय चौटाला ने पार्टी की समानांतर बैठकें की।
बड़े भाई ने अपने कार्यक्रम को पार्टी की राज्य कार्यकारिणी की बैठक बताया, जबकि दूसरे गुट ने इस कदम को गैर-कानूनी बताया। अभय चौटाला ने चंडीगढ़ में पार्टी कार्यकर्ताओं की एक बैठक की, जिसमें उन्होंने अपने भाई पर प्रहार करते हुए कहा कि पार्टी पर दावा करने वालों ने खुद ही पार्टी छोड़ दी।
शिक्षक भर्ती घोटाले में अपने पिता ओम प्रकाश चौटाला के साथ 2013 से 10 साल की कैद की सजा का काट रहे अजय ने कहा कि नयी पार्टी का एलान 9 दिसंबर को जींद में एक रैली करेंगे। अजय फिलहाल दो सप्ताह के पैरोल पर जेल से बाहर हैं। 
हरियाणा विधान सभा में इनेलो के कुल 18 विधायक हैं। अभय चौटाला सदन में पार्टी के नेता हैं। हरियाणा इनेलो अध्यक्ष अशोक अरोड़ा ने बताया कि पार्टी के सभी विधायक अभय चौटाला के साथ हैं। चंडीगढ़ में कार्यकारिणी की बैठक में 12 विधायक मौजूद थे।
यह भी पढ़ें: आक्रामक हुई कांग्रेस के सामने पड़े अकेले शिवराज सिंह चौहान
बैठक के बाद इन विधायकों को चंडीगढ़ से 20 किलोमीटर दूर एक रिसॉर्ट में रखा गया है। बता दें कि हाल ही में पार्टी ने बहुजन समाज पार्टी के साथ गठबंधन कर 2019 का लोकसभा चुनाव लड़ने का एलान किया था।

Leave A Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More