आतंकी संगठन में शामिल हुआ सेना का पूर्व जवान मुठभेड़ में ढेर

0 177
जम्मू कश्मीर, सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच हई मुठभेड़ में 2 आतंकी ढेर हो गए हैं। दोनों आतंकी हिज्बुल मुजाहिदीन के सदस्य थे। इस मुठभेड़ में सुरक्षाबलों के किसी भी जवान के हताहत होने की कोई खबर नहीं है। मारे गए आतंकियों की पहचान मोहम्मद इदरीस सुल्तान और आमिर हुसैन रैदर के रुप में हुई है।
बता दें कि मोहम्मद इदरीस सुल्तान पूर्व में भारतीय सेना का जवान था, जोकि इसी साल अप्रैल माह के दौरान हिज्बुल मुजाहिदीन के साथ जुड़ गया था। मोहम्मद इदरीस सुल्तान जम्मू कश्मीर लाइट इंफेंट्री रेजीमेंट का जवान था।
उल्लेखनीय है कि इदरीस शोपियां से ही लापता हुआ था और उसके साथ 2 स्थानीय युवक भी लापता हुए थे। जांच के दौरान इदरीस सुल्तान के आतंकी संगठन में शामिल होने का पता चला था।
दरअसल सुरक्षाबलों को इलाके में कुछ आतंकियों के छिपे होने की खूफिया सूचना मिली थी। इसके बाद सुरक्षाबलों ने इलाके की घेराबंदी कर सर्च अभियान शुरु कर दिया। बताया जा रहा है कि इसी दौरान छिपे हुए आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर फायरिंग शुरु कर दी।
जिससे मुठभेड़ शुरु हो गई। एनकाउंटर के दौरान दोनों आतंकियों के ढेर होने के साथ ही एनकाउंटर खत्म हो गया। मुठभेड़ करीब 10 घंटे तक चली। फिलहाल पूरे इलाके में सर्च अभियान चलाया जा रहा है। गौरतलब है कि पिछले एक माह के दौरान जम्मू कश्मीर में एनकाउंटर के दौरान 45 आतंकी मारे जा चुके हैं।
जम्मू कश्मीर पुलिस का कहना है कि दोनों आतंकी हिज्बुल मुजाहिदीन के साथ जुड़े हुए थे और कई आतंकी हमलों में शामिल थे। पुलिस ने स्थानीय लोगों को भी फिलहाल मुठभेड़ स्थल से दूर रखा है। पुलिस का मानना है कि
इलाके में विस्फोटक पदार्थ छिपे हो सकते हैं। इसलिए पूरी जांच के बाद ही इलाका खाली किया जाएगा। सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ के दौरान हथियार और गोला बारूद बरामद किए हैं।
यह भी पढ़ें: शादी के दो दिन बाद ही लाखों के गहने लेकर फरार हो गई दुल्हन

Leave A Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More