बिहार पुलिस का एक जवान कर रहा था, एके-47 की तस्करी

0 200
बिहार/मुंगेर, पुलिस का एक जवान भी प्रतिबंधित एके47 की तस्करी के मामले में दबोच लिया गया है। तस्करी के मामले में पुलिसकर्मी धर्मवीर कुमार को गिरफ्तार किया गया है। मामले में पहले गिरफ्तार किए गए आरोपियों के बयान के आधार पर पुलिसकर्मी की गिरफ्तारी हुई है।
जवान खगड़िया का रहने वाला है। इस बात की पुष्टि पटना एसएसपी मनु महाराज ने भी की है। उन्होंने बताया कि, आरोपी जवान को मुंगेर पुलिस ने गिरफ्तार किया है और अपने साथ ले गई है। मुंगेर के एसपी की अगुवाई में पटना पुलिसलाइन से जवान को गिरफ्तार किया गया है। बीते दिनों इसी पुलिस लाइन के जवानों को विद्रोह के चलते बर्खास्त कर दिया गया था।
बिहार के मुंगेर जिले में कुछ समय पहले बरामद हुए एके47 के जखीरे ने पूरे राज्य के साथ देश को भी चौंका दिया दिया था। भारी मात्रा में हथियार बरामदगी के बाद पुलिस ने पूरे मुंगेर को छान डाला था। मामले में कुछ लोगों की गिरफ्तारी के बाद अब इसमें एक बड़ा खुलासा हुआ है।
अगस्त और सितंबर महीने में मुंगेर की अलग अलग जगहों से एके47 के साथ अन्य हथियार बरामद होने का मामला सामने आया था। मामले की गंभीरता को देखते हुए एनआईए को भी लगाया गया था। पुलिस को मुफसिल इलाके के बरदह गांव के एक कुएं से दर्जनभर एके47 बरामद हुई थीं।
मामले पर मुंगेर के एसपी बाबूराम ने बताया था कि हथियारों की तस्कारी के तार मध्यप्रदेश के जबलपुर से जुड़े हुए हैं। साथ ही एसपी ने बताया था कि 29 अगस्त को जिले के जमालपुर में शमशेर और उसके साले के पास से तीन एके47 मिलने के बाद मामले का खुलासा हुआ था।
बता दें कि, तस्करी के मामले में पुलिसकर्मी को उसी पुलिस लाइन से गिरफ्तार किया गया है जहां विद्रोह हुआ था। इसी महीने बिहार पुलिस के जवानों ने विद्रोह कर दिया था। महिला सिपाही की मौत के बाद बड़ी संख्या में पुलिस जवानों ने हंगामा काटा था।
यह भी पढ़ें: आलोक वर्मा के दोनों वकील, फैसला आने से पहले ही आपस में उलझे
जवानों ने एसपी और डीएसपी तक की पिटाई कर दी थी। इस मामले में राज्य में अबतक के इतिहास की सबसे बड़ी कार्यवाई करते हुए सरकार ने 175 पुलिसकर्मियों को बर्खास्त कर दिया। जवानों पर यह कार्यवाई पटना के आईजी नैयर हसनैन खां की रिपोर्ट पर हुई।

Leave A Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More