पत्नी की हत्या कर उसी के खून से लिखा उसके खिलाफ

170

हरियाणा के कैथल जिले में हत्या का एक खौफनाक मामला सामने आया है। यहां की पाई रोड पर स्थित साईं कॉलोनी में बुधवार देर रात संस्कृत शिक्षक ने अपनी पत्नी की हत्या कर दी। घटना के बाद आरोपी पति मौके से फरार हो गया। सुबह जेठानी ने जब शव को फर्श पर पड़ा देखा तो मृतका के परिजनों को सूचना दी। परिजनों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने एफएसएल टीम की मदद से साक्ष्य जुटाए। आरोपी पति के खिलाफ केस दर्जकर उसकी तलाश की जा रही है।

मृतका के भाई करनाल जिले के गांव गोली निवासी प्रदीप कुमार उर्फ दीपक ने पूंडरी थाना में दी शिकायत में बताया कि उसके दो भाई और एक बहन मुनेश उर्फ मनीषा थी। उसकी शादी करीब 14 वर्ष पहले गांव कसान निवासी जयप्रकाश से हुई थी। उसका जीजा जयप्रकाश संस्कृत अध्यापक है, जो गांव पाई के स्कूल में तैनात है।

आरोप है कि जीजा अक्सर बहन के साथ झगड़ा करता रहता था। पहले हुए झगड़ों को लेकर उनकी पंचायतें भी हुईं। अब फिर कई दिनों से उसकी बहन के साथ जीजा झगड़ा कर रहा था। 10 मार्च को उसकी बहन का फोन आया था कि उसके साथ जयप्रकाश झगड़ रहा है। परिवार वालों ने मुनेश को समझाया कि 11 मार्च को वे पूंडरी आकर बातचीत कर लेंगे और वहां आकर जयप्रकाश को समझा देंगे।

इसके बाद 11 मार्च को उनके पास बहन की जेठानी का फोन आया कि मुनेश उर्फ मनीषा का शव नीचे वाले कमरे में फर्श पर पड़ा है। शिकायतकर्ता ने कहा कि उसके जीजा ने घरेलू विवाद के चलते किसी हथियार से वार कर उसकी बहन की हत्या की है।

यह भी पढे : पढ़िये आज का राशिफल और पंचांग, 12 मार्च 2021

एसएचओ निर्मल कुमार ने बताया कि शव का पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिया गया है। मृतका के भाई की शिकायत पर आरोपी के खिलाफ केस दर्जकर लिया गया है। उन्होंने बताया कि घटनास्थल पर खून से लिखी एक लाइन से स्पष्ट हो रहा है कि पति को महिला के चरित्र पर शक था और इसी कारण वारदात को अंजाम दिया गया है।

हत्या के बाद भी आरोपी पति को नहीं हुआ मलाल
पत्नी की हत्या के बाद भी आरोपी पति को अपने किए पर मलाल नहीं हुआ। आरोपी ने पत्नी की हत्या करने के बाद उसी के खून से घर की फर्श पर महिला के बारे में अपशब्द लिख डाले। मृतका के परिजनों का कहना है कि पहले भी आरोपी आए दिन पत्नी से मारपीट करता था। एक दिन पहले भी पति-पत्नी का विवाद हुआ था, जिसके बाद विवाहिता ने फोन कर सूचना दी थी।

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More