प्रवीण तोगडिय़ा ने नया राजनीतिक दल बनाने का किया एलान

0 642
अयोध्या,। रामनगरी अयोध्या में अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद के अध्यक्ष डॉ. प्रवीणभाई तोगडिय़ा ने नया राजनीतिक दल बनाने की घोषणा की। सरयू नदी के तट पर संकल्प सभा में प्रवीण तोगडिय़ा ने भाजपा पर लोगों के साथ वादाखिलाफी का गंभीर आरोप लगाया है।
अयोध्या में सरयू नदी तट पर संकल्प सभा को संबोधित करते हुए प्रवीण भाई तोगडिय़ा ने कहा कि श्रीराम की नगरी में भगवान राम के साथ न्याय नहीं हो पा रहा है।
उन्होंने कहा कि अयोध्या में जिन्होंने मंदिर बनाने का वादा किया था उन्होंने दिल्ली में करीब पांच सौ करोड़ की लागत से अपना भव्य कार्यालय तो बनवा लिया लेकिन यहां पर रामलला आज भी टेंट में निवास कर रहे हैं।
अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद के अध्यक्ष प्रवीणभाई तोगडिय़ा में अयोध्या आज सक्रिय राजनीति में उतरने की घोषणा भी की है। उन्होंने कहा कि हम लोकसभा 2019 का चुनाव लड़ेंगे।

इसके बाद जब हमारी सरकार बनी तो हम अयोध्या, काशी व मथुरा पर फोकस करने के साथ इनका कायाकल्प कर देंगे। उन्होंने कहा कि देश में अल्पसंख्यक जनसंख्या नियंत्रण पर कानून बनेगा।
अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद के अध्यक्ष प्रवीणभाई तोगडिय़ा में अयोध्या आज सक्रिय राजनीति में उतरने की घोषणा भी की है। उन्होंने कहा कि हम लोकसभा 2019 का चुनाव लड़ेंगे। इसके बाद जब हमारी सरकार बनी तो हम अयोध्या, काशी व मथुरा पर फोकस करने के साथ इनका कायाकल्प कर देंगे।
उन्होंने कहा कि देश में अल्पसंख्यक जनसंख्या नियंत्रण पर कानून बनेगा। इसके साथ ही उन्होंने आज हिंदू संगठनों से जुडऩे का आह्वान किया। तोगडिय़ा ने कहा कि पार्टी के नाम की घोषणा दिल्ली में होगी।
तोगड़िया ने अबकी बार हिंदू सरकार का नारा देते हुए कहा कि उनकी पार्टी आगामी लोकसभा चुनाव में उतरेगी। सरकार बनने के तीन माह के भीतर ही अयोध्या, काशी और मथुरा में मंदिर निर्माण शुरू होगा। साथ ही अल्पसंख्यक जनसंख्या नियंत्रण पर कानून भी बनेगा।
उन्होंने एक बूथ 25 यूथ का भी नारा दिया। तोगड़िया ने खुद भी चुनाव लड़ने की बात कही। तोगड़िया ने अन्य हिंदू संगठनों को भी नई पार्टी से जुड़ने का आह्वान किया।
सूत्रों के मुताबिक प्रवीण तोगड़िया की नई पार्टी का नाम राष्ट्रीय जनता पार्टी हो सकता है। 
उन्होंने भाजपा पर हमला करते हुए कहा कि जिन लोगों ने राम के नाम पर चुनाव लड़ा वो सत्ता मिलते ही राम को भूल गए। उन्होंने अपने समर्थकों संग अबकी बार हिंदुओं की सरकार का नारा दिया। उन्होंने कहा कि हमारे पूर्वजों ने समद्घ भारत, समृद्घ हिंदू का नारा दिया था लेकिन
सत्ता में बैठे लोग हिंदू हितों की बात भूल गए हैं। मस्जिदों में जाते हैं। नई पार्टी के एलान के साथ ही तोगड़िया ने लोकसभा चुनाव लड़ने की भी घोषणा कर दी। तोगड़िया ने सत्ता में आने पर हर हिंदू को भोजन, शिक्षा व रोजगार देने का वादा किया।

हम राम मंदिर नहीं तो वोट नही का नारा लेकर जागरुकता फैलाएंगे और केंद्र में हिंदुओं की सरकार बनाने के लिए काम करेंगे। तोगड़िया ने मुस्लिमों की जनसंख्या पर भी नियंत्रण लगाने की बात कही।
प्रवीण तोगड़िया ने कहा है कि ‘वे राम मंदिर नहीं, तो वोट नहीं’ आंदोलन को खत्म करने वाले नहीं हैं। अबकी बार हिंदुओ की सरकार बनेगी। जल्द ही इस पर फैसला होगा कि किसे वोट देना है।
उन्होंने केंद्र की मोदी सरकार पर वादाखिलाफी का आरोप लगाते हुए कहा कि अब जनता के सामने एक नया विकल्प देना है। उन्होंने कहा कि जो भी राम मंदिर निर्माण की बात करेगा, वोट उसी को मिलेगा। उन्होंने कहा कि
भाजपा के लोगों के भरोसे मेरे जैसे हजारों लोगों ने साढ़े चार साल तक राम मंदिर बनने का इंतजार किया। इसके बाद भी इन लोगों ने मेरे जैसे हजारों लोगों का जीवन कुर्बान कर दिया है।
यह भी पढ़ें: धनबाद: झारखंड के कोयला खदानों में लगातार बढ़ती जा रही 100वर्षों से धधक रही आग
अयोध्या में प्रवीण तोगडिय़ा ने आज सरयू नदी के तट पर संकल्प सभा में नया राजनीतिक दल बनाने का एलान किया। उन्होंने कहा कि सत्ता में आने के तीन महीने के भीतर अयोध्या, मथुरा व काशी तीनों साथ लेंगे। इसके साथ ही मुसलमानों का अल्पसंख्यक दर्जा समाप्त करेंगे। 

Leave A Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More