राम मंदिर पर अध्यादेश लाये और अपना वादा पूरा करे सरकार: RSS

0 175
राष्ट्रीय स्वयंसेक संघ के सह सरसंघचालक मनमोहन वैद्य ने कहा कि वक्त आ गया है कि सरकार को अब राम मंदिर निर्माण के लिए काम शुरू करना चाहिए।
उन्होंने कहा कि साल 1994 में तत्कालीन कांग्रेस सरकार ने वादा किया था कि अगर कभी यह साबित हो जाता है कि बाबरी की जमीन पर मंदिर था तो
वहां राम लला का मंदिर निर्माण किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि सरकार को 1994 में किए इस वादे को पूरा करना चाहिए। वैदय यहां तीन दिवसीय बैठक की शुरुआत के अवसर पर पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।
बता दें कि महाराष्ट्र में बुधवार से संघ की तीन दिवसीय कार्यशाला प्रारंभ हुई है। इसका शुभारंभ सरसंघचालक मोहन भागवत ने किया।
वैद्य ने कहा कि साल 1994 में कांग्रेस सरकार के वक्त सॉलिसिटर जनरल ने सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दाखिल किया था कि अगर कभी ये साबित हो जाता है कि
जिस जगह पर बाबरी मस्जिद है, वहां कभी मंदिर था तो वे हिंदुओं को जमीन दे देंगे और मंदिर निर्माण करेंगे। अब हमारे पास सबूत भी है और ये मामला भी काफी लंबा खिंच चुका है।
अब मामला केवल इतना बचा है कि जमीन अधिग्रहण कर हिंदुओं को देनी है ताकि मंदिर निर्माण किया जा सके।
उन्होंने कहा कि ये मामला कभी भी सिर्फ हिंदू मुस्लिम और मंदिर-मस्जिद का नहीं था बल्कि देश के गौरव की पुनर्स्थापना का है। अब सरकार को अपना 1994 में किया वादा पूरा करना चाहिए।
गौरतलब है कि गत सोमवार को सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि राम मंदिर मामले की सुनवाई एक उपयुक्त बेंच करेगी। जनवरी के बाद ही इस मामले पर सुनवाई की जाएगी।
इसके बाद अब राम मंदिर निर्माण को लेकर केंद्र सरकार पर दबाव बढ़ने लगा है। भाजपा के ही कुछ नेताओं के अलावा संत समाज और
संघ लगातार इस मामले को लेकर अध्यादेश लाने की मांग कर रहा है। वहीं, कांग्रेस इस मामले पर कोर्ट के फैसले का इंतजार करने को कह रही है।

यह भी पढ़ें: शिवपाल अपनी पार्टी के राष्ट्रीय सम्मेलन में दिखाएंगे अपनी ताकत

Leave A Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More