मैली यमुना मे भक्त कैसे करेंगे यमद्वितीया का स्नान

0 502
आगरा,।  दीवाली के बाद यम द्वितीया पर भी लाखों श्रद्धालु यमुना स्नान को मथुरा के साथ वृंदावन पहुंचेंगे। यहां यमुना स्नान कर यम फांस से मुक्त के लिए यमुना स्नान कर पूजन करेंगे।

 

मगर, यमुना किनारे अटी पड़ी गंदगी श्रद्धालुओं को जरूर कचोटेगी। जिला प्रशासन की अनदेखी के कारण यमुना स्नान करने आने वाले लोगों को वृंदावन की ये तस्वीर जरूर यहां के हालातों को बया करेगी।
कार्तिक के महीने में करीब चालीस दिन तक नियम सेवा करने वाले हजारों श्रद्धालु प्रतिदिन यमुना स्नान कर अपने दिन की शुरूआत कर रहे हैं।
प्रदेश सरकार भले ही ब्रज विकास के लाख दावे करे। मगर, स्थानीय अफसरों की मनमानी सरकार के दावों को ठेंगा दिखाती नजर आती है।
ब्रज विकास के लिए प्रदेश सरकार ने भले ही उप्र ब्रज तीर्थ विकास परिषद का गठन कर दिया। इसके अलावा जिला प्रशासन भी तीर्थनगरी को स्वच्छ रखने के भरसक प्रयास में है।
जहां तक कि खुद डीएम झाड़ू लगाकर लोगों को जागरूक करते दिखाई दे रहे हैं। लेकिन निगम के अफसरों की कमी के चलते यमुना किनारे अब भी गंदगी अटी पड़ी है।
केशीघाट से लेकर श्रृंगारवट घाट, सूरजघाट, जुगल घाट, बिहार घाट पर यमुना किनारे अटी पड़ी गंदगी से होकर श्रद्धालु यमुना स्नान करने को पहुंच रहे हैं।
यमुना किनारे पूजन के दौरान श्रद्धालुओं को साफ-सुथरी जमीन तराशनी पड़ती है। जो कि कहीं नजर ही नहीं आ रही। कार्तिक के महीने में वृंदावन में देश विदेश के लाखों श्रद्धालु नियम सेवा कर रहे हैं।
इसके साथ ही 20 अक्टूबर से करीब 120 देशों के श्रद्धालु श्रील प्रभुपाद के प्रादुर्भाव महोत्सव पर वृंदावन में डेरा डालेंगे।
जो यमुना स्नान कर पंचकोसीय परिक्रमा भी करेंगे।
यह भी पढ़ें: फैजाबाद के बाद अब अहमदाबाद का नाम बदलने की तैयारी
हालात यही रहे तो दुनियाभर में वृंदावन की एक बदसूरत तस्वीर इस साल जरूर जाएगी।

Leave A Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More