छत्तीसगढ़ में DM से BJP उम्मीदवार बने रायपुर के ओम प्रकाश चौधरी

0 166
इसी साल अगस्त में उन्होंने रायपुर के कलेक्टर पद से इस्तीफा दे दिया था और भाजपा का दामन थाम लिया था। उन्हें सीएम रमन सिंह और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने पार्टी की सदस्यता दिलाई थी। चौधरी 2005 बैच के आईएएस अधिकारी रहे हैं।
छत्तीसगढ़ में आईएएस अफसर से राजनेता बने रायपुर के पूर्व कलेक्टर ओम प्रकाश चौधरी अपने विवादित बोल से सुर्खियों में आ गए हैं।
चौधरी मतदाताओं से यह कहते हुए दिखाई दे रहे हैं कि जो लोग उनका साथ नहीं देंगें, उन पर वो कहर बनकर टूटेंगे। बता दें कि भाजपा ने चौधरी को खरसिया सीट से उम्मीदवार बनाया है।
अपने चुनाव प्रचार के दौरान गांव टपरडा में बोलते हुए ओपी चौधरी ने कहा, “सबको पता होना चाहिए कि 2019 में मोदी जी प्रचंड बहुमत से दिल्ली में सरकार बना रहे हैं। सबको पता होना चाहिए कि
2018 में डॉ. रमन सिंह जी फिर से भारतीय जनता पार्टी की चौथी बार सरकार बना रहे हैं और आपलोगों को मैं आश्वस्त कर दूं कि भाजपा का एक हिस्सा होने के कारण मैं भी पॉवरफुल व्यक्ति रहूंगा। और
आपलोग जो सही सही चीजों के लिए मेरा साथ देंगे, मैं हमेशा उनका साथ दूंगा और जो सही चीजों के लिए साथ नहीं देंगे, उनके ऊपर कहर बनकर टूटूंगा।
ये याद रखिए।” वीडियो में चौधरी के इस बयान पर वहां मौजूद लोग तालियां बजाते दिख रहे हैं।
ओपी चौधरी अकेले ऐसे नेता नहीं हैं, जिन पर सत्ता की खुमारी चढ़ी हुई है और वो उल्टे-पुल्टे बोल बोल रहे हैं। बलिया के बीजेपी सांसद भरत सिंह ने भी मीडिया को यमराज कहा और मीडिया के माइक आईडी को चोंगा बताया।
सांसद के इस बोल पर उनके समर्थकों के साथ-साथ बलिया के सीएमओ और अन्य डॉक्टरों ने भी खूब ठहाके लगाए और जोर-जोर से मीडिया यमराज के नारे लगाए।
दरअसल, सांसद मुरली मनोहर टाउन डिग्री कॉलेज में चुनाव के दौरान हुए बवाल के बाद घायलों से मिलने जिला अस्पताल पहुंचे थे।
जब मीडियाकर्मियों ने उनसे घटना का विवरण पूछा तो वो मीडिया पर ही गरम हो गए और मीडिया को यमराज बताने लगे।
यह भी पढ़ें: टिकट बंटवारे पर अमित शाह और वसुंधरा राजे में रार

Leave A Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More