भाजपा नेता परिहार की जम्मू कश्मीर में हत्या पर आक्रोश

0 207
जम्मू-कश्मीर,। आतंकियों ने जम्मू संभाग के किश्तवाड़ जिले में गुरुवार रात भाजपा के राज्य सचिव अनिल परिहार व उनके भाई अजीत परिहार की गोलियों से भूनकर हत्या कर दी।
हमले के लिए आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा को जिम्मेदार माना जा रहा है। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह सहित कई लोगों ने कड़ी निंदा की है।
इसे कायरतापूर्ण कार्रवाई करार दिया गया है। नेशनल कांफ्रेस के उमर अब्दुल्ला ने इसे दुखद करार देते हुए परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त की है।
शुक्रवार को भाजपा अध्यक्ष रविंद्र रैना, प्रदेश पदाधिकारियों, सांसदों, पूर्व मंत्रियों, विधायकों, विधान परिषद के सदस्यों के साथ किश्तवाड़ पहुंचेंगे।
प्रधानमंत्री कार्यालय में राज्य मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह भी शुक्रवार को अपने संसदीय क्षेत्र के हिस्से किश्तवाड़ में पहुंच रहे हैं। प्रदेश भाजपा के नेता, कार्यकर्ता शुक्रवार को परिहार और उनके भाई के अंतिम संस्कार में हिस्सा लेंगे।
परिहार भाजपा को मजूबत बनाने के लिए प्रयासरत थे। गुरुवार शाम पौने पांच बजे उन्होंने उपाध्यक्ष पवन खजूरिया से पौना घंटा चर्चा की थी कि आरएसपुरा में किस तरह से भाजपा की कमेटी बनाई जाए।
वह आरएसपुरा के प्रभारी थे। इससे पहले वह करीब तीन साल तक ऊधमपुर विधानसभा क्षेत्र के प्रभारी भी रहे हैं।
डोडा बचाओ आंदोलन में भी सक्रिय भूमिका निभाई राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सक्रिय सदस्य रहे अनिल परिहार ने कई वर्ष पहले हुए डोडा बचाओ आंदोलन में भी सक्रिय भूमिका निभाई थी। 

वर्ष 2001 से परिहार के साथ भाजपा के कई कार्यक्रमों में सक्रिय रूप से हिस्सा लेने वाले पवन खजूरिया ने दैनिक जागरण को बताया कि पार्टी ने एक अच्छा नेता खो दिया है।

परिहार क्षेत्र में राष्ट्रवादी तत्वों को मजबूत बनाने में शुरू से सक्रिय भूमिका निभाते आए हैं। ऐसे में वह देशविरोधी तत्वों के खिलाफ लगातार आवाज बुलंद करते थे।
अनिल परिहार को किश्तवाड़ के टूरिस्ट रिस्पेशन सेंटर (टीआरसी) के निकट बन रहे अपने नए मकान में रहना नसीब नही हुआ। इन दिनों वह नया मकान बनाने की व्यस्तता के कारण वह जम्मू नहीं आ पा रहे थे।
वह अक्सर पार्टी के नेताओं को कहते थे कि जल्द मेरा घर बनकर तैयार हो जाएगा। ऐसे में अब जब आप किश्तवाड़ आएंगे तो आपको वहां पर रहने में कोई भी मुश्किल नहीं आएगी।
यह कायरतापूर्ण और मानवता को शर्मसार कर देने वाली कार्रवाई है। अपने मूल्यवान साथी को खो देने से शोक में हूं और ईश्र्वर से प्रार्थना करता हूं कि परिवार को इस क्षति को सहन करने की शक्ति प्रदान करे। अमित शाह, भाजपा अध्यक्ष
अनिल परिहार व उनके भाई की हत्या से सदमे में हूं। राज्यपाल के सलाहकार विजय सिंह से इस घटना के संदर्भ में बात हुई है।
पुलिस दोषियों को सजा दिलाने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ेगी।राजनाथ सिंह, केंद्रीय गृह मंत्री अपने साथी और भाजपा के प्रदेश सचिव व उनके भाई की हत्या के समाचार से सदमे में हूं।
यह भी पढ़ें: कांग्रेस मुख्यालय छत्तीसगढ़ में हुआ जमकर उत्पात
इस दुख को शब्दों में नहीं बयां किया जा सकता। तुरंत किश्तवाड़ रवाना हो रहा हूं। जितेंद्र सिंह, केंद्रीय मंत्री

Leave A Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More