एक बार फिर मैदान पर दिखेगा जहीर, आरपी सिंह का जलवा

0 99
भारत के सबसे सफल गेंदबाजों में से एक पूर्व तेज गेंदबाज जहीर खान, आर पी सिंह और हाल में क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास लेने वाले प्रवीन कुमार आगामी नवंबर-दिसंबर में होने वाली टी-10 क्रिकेट लीग के दूसरे संस्करण में हिस्सा लेंगे।
आयोजनकर्ताओं ने मंगलवार को इसकी घोषणा की। 2011 विश्वकप में भारत को खिताब दिलाने में अहम योगदान देने वाले जहीर ने सभी प्रारूपों में मिलाकर 600 से अधिक अंतर्राष्ट्रीय विकेट लिए हैं।
 पिछले महीने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा लेने वाले आर पी दक्षिण अफ्रीका में 2007 में पहले टी-20 विश्वकप में भारत को चैम्पियन बनाने वाली टीम का हिस्सा थे। वह टूर्नामेंट में सर्वाधिक विकेट लेने वाले दूसरे गेंदबाज थे।
जहीर, प्रवीण और आर पी के अलावा एस बद्रीनाथ और रीतिंदर सिंह सोढी भी टी-10 लीग में खेलेंगे। बद्रीनाथ की गिनती सबसे सफल प्रथम श्रेणी क्रिकेटरों में होती है। उन्हें घरेलू क्रिकेट में खेलने का काफी अनुभव है। इसके अलावा इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में खेलने का फायदा उन्हें टी-10 में मिलेगा।
दूसरी तरफ गेंद को दोनों ओर घूमाने में माहिर प्रवीन को भी अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट खेलने का काफी अनुभव है। उनके अलावा रीतिंदर सिंह का हरफनमौला प्रदर्शन लीग में अहम भूमिका निभा सकता है।
 इससे पहले, वीरेंदर सहवाग और शाहिद अफरीदी को इस लीग का आइकन खिलाड़ी चुना गया था। पाकिस्तान के पूर्व कप्तान वसीम अकरम इसके प्रतिभा तलाश कार्यक्रम के निदेशक होंगे।
यह भी पढ़ें: भ्रष्‍टाचार: पिछले साल यह आंकड़ा 45 प्रतिशत था और इस साल 11 फीसद की बढ़ोतरी के साथ 56 प्रतिशत तक पहुंच गया
टूर्नामेंट में इस बार कुल आठ टीमें हिस्सा लेंगी। इनमें केरला किंग्स, पंजाब लेजेंड्स, मराठा अरेबियंस, बंगाल टाइगर्स, द कराचियंस, राजपूत, नार्थन वॉरियर्स और पख्तूनस शामिल है। 
कराचियंस और नार्थन वॉरियर्स लीग की दो नई टीमें हैं। लीग का दूसरा संस्करण शारजाह क्रिकेट स्टेडियम में 21 नवंबर से दो दिसंबर तक खेला जाएगा।

Leave A Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More