युसूफ अली का ‘लुलु ग्रुप’ बनाएगा ग्रेटर नोएडा में देश का सबसे बड़ा मॉल

37

ग्रेटर नोएडा के जेवर में नोएडा इंटरनेशनल ग्रीन फील्ड एयरपोर्ट, फिल्म सिटी और अन्य कई महत्वपूर्ण प्रोजेक्ट को मंजूरी मिलने के बाद विदेशी कंपनियां निवेश करने के लिए उत्सुक नजर आ रही हैं।

इसी कड़ी में अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त लुलु ग्रुप उत्तर प्रदेश का सबसे बड़ा फूड प्रोसेसिंग पार्क सेक्टर इकोटेक-10 में बनाएगा। 20 एकड़ जमीन पर 500 करोड़ की लागत से बनने वाला इस फूड प्रोसेसिंग पार्क के चलते जहां किसानों को उनकी फसल के अच्छे दाम मिलेंगे। वहीं युवाओं को रोजगार भी मिलेगा।लुलु ग्रुप ग्रेटर नोएडा में प्रदेश का सबसे बड़ा फूड पार्क बनाएगा। इसके लिए ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने लुलु ग्रुप को जमीन आवंटित कर दी है।

इस जमीन का कब्जा पत्र लखनऊ में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मौजूदगी में ग्रेटर नोएडा के सीईओ नरेंद्र भूषण ने लुलु कंपनी के सीएमडी युसूफ अली को सौंपा।इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि इस फूड पार्क के बनने से युवाओं और किसानों को लाभ होगा। इसके अलावा लुलु ग्रुप ने ग्रेटर नोएडा में देश का सबसे बड़ा मॉल बनाने के लिए भी अपनी सहमति जताई है।

इसके लिए एक सप्ताह में जमीन का चिन्हीकरण कर दिया जाएगा।लुलु ग्रुप के सीएमडी युसूफ अली का कहना है कि फूड प्रोसेसिंग पार्क आठ महीने में बनकर तैयार हो जाएगा। उनका लक्ष्य 15 अगस्त से फूड प्रोसेसिंग और पैकिंग का काम शुरू करने का है। उन्होंने बताया कि फूड प्रोसेसिंग पार्क से फल एवं सब्जियों की आधुनिक तकनीक से प्रोसेसिंग कर उनकी पैकेजिंग की जाएगी।

जिसे निर्यात किया जाएगा। इस पार्क की 20 हजार मैट्रिक टन स्टोरेज की क्षमता होगी। इसमें दूध, कृषि और रेडी टू ईट वाले पैकेजिंग फूड उत्पाद सुरक्षित ढंग से रखे जा सकेंगे। यहां के अधिकतर उत्पाद मध्य एशियाई देशों में निर्यात किए जाएंगे।ग्रेटर नोएडा के सीईओ नरेंद्र भूषण ने बताया कि अगस्त 2021 में प्राधिकरण ने लुलु ग्रुप को जमीन का आवंटन किया था। अब यह प्रोजेक्ट मूर्त रूप लेने जा रहा है। उन्होंने बताया कि लुलु फूड प्रोसेसिंग पार्क से स्थानीय कृषि उपज को बढ़ावा मिलेगा।

यहां से फूड प्रोसेसिंग और पैकेजिंग के बाद निर्यात किया जाएगा। इससे किसानों को अच्छे दाम मिलेंगे और सीधे मार्केटिंग होगी। प्राधिकरण ने लुलु ग्रुप को 18 महीने का समय दिया है, लेकिन लुलु ग्रुप ने उन्हें आश्वस्त किया है कि फूड प्रोसेसिंग और पैकेजिंग का काम 15 अगस्त से शुरू कर दिया जाएगा।सीईओ नरेंद्र भूषण ने बताया कि ग्रुप के ज्यादातर देशों में शॉपिंग मॉल हैं। लुलु ग्रुप के सामने प्राधिकरण की ओर से देश का सबसे बड़ा मॉल बनाने का प्रस्ताव रखा गया था, जिस पर उसने अपनी सहमति जताई है।

सीईओ का कहना है कि ग्रुप को जमीन दिखाने की तैयारी कर ली गई है। कोशिश रहेगी कि देश का सबसे बड़ा मॉल ग्रेटर नोएडा में बने, ताकि यहां निवेश और रोजगार की संभावनाएं बढ़ सकें।

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More