यूपी ने सौभाग्‍य योजना में किया टॉप, 19 महीने में बांटे 80 लाख बिजली कनेक्‍शन

0 143
प्रदेश के ऊर्जा मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने बताया कि पिछले चौदह – पंद्रह साल से हर वर्ष औसत बिजली कनेक्शन 6.5 लाख था, जबकि आज हर महीने चार लाख से अधिक बिजली कनेक्शन प्रदान किये जा रहे हैं ।
हर घर को रौशन करने के इरादे से शुरू की गई सौभाग्य योजना को लागू करने में उत्तर प्रदेश की आदित्यनाथ योगी सरकार 19 महीने में 80 लाख बिजली कनेक्शन के साथ पहले नंबर पर है।
प्रदेश के ऊर्जा मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने दावा किया, ‘उन्नीस महीने में 80 लाख बिजली कनेक्शन के साथ उत्तर प्रदेश सौभाग्य योजना में देश में प्रथम पायदान पर है।’
उधर भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता मनीष शुक्ला ने भाषा से कहा, ‘भाजपा सरकार ने बिजली वितरण में भेदभाव को समाप्त करते हुए प्रदेश के सभी क्षेत्रों में सामान्य बिजली आपूर्ति शेड्यूल लागू किया है ।’
उन्होंने कहा, ‘जिला मुख्यालय पर 24 घंटे, तहसील मुख्यालय पर 20 घंटे और गांवों को 18 घंटे बिजली आपूर्ति ने चार—पांच वीआईपी जिले की अवधारणा को समाप्त कर दिया ।’
शुक्ला ने कहा कि यह मोदी-योगी सरकार की कार्यशैली है जो जनता के प्रति जिम्मेदारी और जबावदेही प्रर्दिशत करती है ।
उन्होंने पूर्व की सपा – बसपा सरकारों को आडे हाथ लेते हुए कहा कि कदाचित जनहित के कार्यों के प्रति समर्पण का यह भाव सूबे की पिछली सरकारों में नदारद था।
प्रवक्ता ने कहा, ‘इसी तरह चीनी उत्पादन, दुग्ध उत्पादन और प्रधानमंत्री आवास योजना में भी उत्तर प्रदेश सर्वोच्च स्थान पर है।’ शुक्ला ने कहा कि पिछली सपा-बसपा सरकारों के दौरान विभिन्न योजनाओं में निचले पायदान पर रहने वाले उत्तर प्रदेश में आज विकास का पहिया तेजी से घूम रहा है।
उधर समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता राजेन्द्र चौधरी ने कहा कि समाजवादी सरकार के समय जितनी बिजली उपभोक्ताओं को दी गयी, उतनी भाजपा सरकार के समय नहीं मिल रही है।
उन्होंने दावा किया कि सपा सरकार के समय अयोध्या, मथुरा, वाराणसी, गोरखपुर जैसी जगहों पर 24 घंटे बिजली रहती थी ।
चौधरी ने कहा, ‘भाजपा सरकार ने कुछ काम नहीं किया बल्कि स्थिति और खराब की है। ये ना तो लाइन हानियों को ठीक कर पा रहे हैं और ना ही बिजली चोरी पर रोक लगा पा रहे हैं।
किसानों को सिंचाई के लिए बिजली नहीं मिल पा रही है। बिजली के क्षेत्र में भाजपा सरकार ने उत्तर प्रदेश को बर्बाद किया है ।’
कांग्रेस प्रवक्ता अशोक सिंह ने कहा कि योगी सरकार के 17 महीने के कार्यकाल में सिर्फ वायदे और घोषणाएं की गयी हैं। बिजली को लेकर भी यही स्थिति है।
उन्होंने कहा कि चाहे गांव तक बिजली पहुंचाने की बात हो या शहरों की बिजली आपूर्ति, हालात बद से बदतर हो गये हैं। सिंह ने कहा कि
यह भी पढ़ें: नवाज की मां के पैर में नाक रगड़ने वाला सिखाएगा मुझे देशभक्ति?: सिद्धू
‘2019 के लोकसभा चुनाव में प्रदेश की जनता भाजपा को जवाब देगी। ये रंग बदलने वाले लोग हैं । इनकी ना तो नीयत है और ना ही नीति।’

Leave A Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More