तिहाड जेल में बंद नीरज बवानिया बन कर 50 लाख की रंगदारी मांगने वाले 2 गिरफ्तार

123

आर जे न्यूज़-

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच की टीम ने एक व्यापारी से 50 लाख रुपये की रंगदारी की मांग करने वाले दो युवकों को गिरफ्तार किया है। इनमें से एक व्यापारी के लिए काम भी करता था। लेकिन काम के चलते हुए मतभेद की वजह से उसने व्यापारी को सबक सिखाने की ठानी और फिर नीरज बवानिया बनकर रंगदारी के लिए कॉल कर 50 लाख रुपये की रंगदारी मांगी । गिरफ्तार आरोपियों की पहचान आदिल और मोईन के रुप में हुई है।

मोईन कुख्यात बदमाश छेनू पहलवान के ऑफिस पर काम करता है। छेनू पहलवान फिलहाल मकोका के मामले में जेल में बंद है। पुलिस ने इनके पास से रंगदारी के लिए कॉल करने में इस्तेमाल किया गया मोबाइल फोन और सिम कार्ड भी बरामद कर लिया है। इसके अलावा तीन मोबाइल हैंड सेट, जिनसे कॉल की गई थी। सिम अलग अलग मोबाइल में इसलिए डाले गए ताकि पकड़ में न आएं।

क्राइम ब्रांच के एडिशनल कमिश्नर पुलिस शिबेश सिंह के मुताबिक शाहीन बाग में रहने वाले एक जींस व्यापारी ने शाहीन बाग थाना पुलिस को शिकायत दी कि उसे नीरज बवानिया गैंग के नाम पर धमकी भरे फोन कॉल आ रहे हैं। फोन करने वाला खुद को नीरज बवानिया बता रहा है, जो यह दावा करता है कि वह जेल के अंदर से फोन कर रहा है और उसे 50 लाख रुपए रुपए बतौर प्रोटेक्शन मनी चाहिए। अगर रकम नहीं दी गई तो व्यापारी और उसका परिवार अंजाम भुगतने के लिए तैयार रहे।

पुलिस ने व्यापारी की शिकायत के आधार पर शाहीन बाग थाना में एफआईआर दर्ज कर ली। इस बीच क्राइम ब्रांच भी इस मामले की जांच के दौरान टीम को सूचना मिली की इस मामले में लिप्त बदमाश नॉर्थ ईस्ट जिले के यमुना विहार इलाके में आने वाला है। वही टीम ने यमुना विहार से आदिल को गिरफ्तार कर लिया और उसकी निशानदेही पर उसके दूसरे साथी मोइन को भी गिरफ्तार कर लिया गया है।

रिपोर्ट:- भावेश पीपलीया दिल्ली एन सी आर ब्यूरो

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More