पीड़िता ने इंसाफ के लिए लगाई आला अधिकारियों से इंसाफ की गुहार

64

कानपुर, पीड़िता मीरा पुत्री किशन लाल निवासी ग्राम भरतपुरवा ने डीजीपी पुलिस अधीक्षक (आउटर) एसीपी से लगाई इंसाफ की गुहार बताया कि 03/08/2022 को प्रातः 09:30 बजे अपने गाँव से मु0अ0स0-49/2000 थाना बिठुर कानपुर नगर की पैरवी हेतु अपने गाँव भारतपुरवा से कचहरी जा रही थी कि रास्ते में रूपन पुत्र राम लाल, बृजेश कुमार, शशि कुमार पुत्रगण रूपन, व लाला राम पुत्र नन्हा निवासीगण ग्राम भारतपुरवा पोस्ट बैकुण्ठपुर, कानपुर नगर दो अन्य नाम पता अज्ञात मुझे जबरदस्ती रास्ते में रोककर मुकदमा वापसी का दबाव बनाकर सादे कागजो में मुझसे हस्ताक्षर करने का दबाव बनाने लगे,

मेरे इन्कार करने पर मुझे सभी उपरोक्त एक राय होकर भद्दी-भद्दी गालिया देते हुए मुझे मारने पीटने लगे व मुझे बगीचे की तरफ घसीटने लगे। रूपन ने मुझे भद्दी भद्दी गालियाँ देते हुए कहा कि दोबारा पहले इसके साथ सब लोग रेप करो इसके बाद पेट्रोल डालकर आग लगा कर जला दो। इतने में उपरोक्त सभी ने मेरे साथ अश्लील हरकते व छेडखानी करते हुए मेरे शरीर के कपड़े फाड़ डाले बृजेश हाथ में लिये पट्रोल की भरी बोतल मेरे ऊपर डाल दिया और रूपन ने माचिस से आग लगाने का प्रयास किया।

माचिस नही जली मेरे चिल्लाने पर राहगीरो व खेत में काम करने वालों ने दौड़ कर मेरी जान बचाई। सभी भद्दी-भद्दी गालिया देते हुए मुकदमा न लेने पर पूरे परिवास की हत्या करने की धमकी देते हुए भाग गये। मेरे साथ इसके पूर्व भी दिनांक 20, 24, 30/07/2022 को मुझे रास्ते में जबरदस्ती रोककर मुकदमा वापस लेने का दबाव उपरोक्त सभी कई बार बना चुके है। मुकदमा वापस न लेने पर प्रार्थिनी व प्रार्थिनी के परिवार की हत्या करने की धमकी दे चुके है। रूपन गाँव व दबंग ग्राम प्रधान है जिससे गाँव के लोग भयभीत रहते है। इसके पूर्व मेरे द्वारा प्रार्थना पत्र थाने पर दिया गया है जिस पर कार्यवाही नहीं की गयी है।

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More