एटा के कस्बा जैथरा में गुंडों का खुलेआम आतंक

332

उत्तर प्रदेश का एटा जनपद हमेशा से अपराध के लिए प्रसिद्ध रहा है यहां किसी की भी सरकारें रही हो आम और सीधे साधे लोगों को दबंगों की तरफ से हमेशा परेशान किया जाता रहा है 2017 के विधानसभा चुनाव में एटा के अलीगंज विधानसभा की जनता ने बड़ी उम्मीदों के साथ भाजपा को वोट किया था तथा उत्तर प्रदेश में पूर्ण बहुमत की सरकार बनने पर खुशी जाहिर की थी परंतु बीते साढे 4 सालों में विधानसभा अलीगंज के अंतर्गत गुंडई,बेईमानी और जमीनों की धोखाधड़ी में ज्यादा फर्क नजर नहीं आया

ऐसा ही मामला दिवाली वाले दिन कस्बा जैथरा में देखने को मिला जैथरा के एक संभ्रांत परिवार की महिलाओं, बच्चों के साथ मारपीट और लूट जैसी घटना खुलेआम की गई, जैथरा कस्बे में 8/10 सड़क छाप गुंडों का गैंग सक्रिय रहता है l जो अपनी नीच हरकतों से अपने पूरे समाज को शर्मिंदा करता है l तथा दूसरे लोगों की नजरों में हीन भावना पैदा करता हैl

इन 4/6 आवारा लड़कों की वजह से कस्बा जैथरा के आम नागरिक हमेशा दबाव और दहशत में रहते हैं कि पता नहीं कब यह लोग उनको अपमानित कर दें इनको हमेशा से किसी न किसी का संरक्षण प्राप्त रहा है दीपावली वाले दिन शाम करीब 9:30 बजे जिस तरह इन्होंने एक परिवार को अपमानित किया उससे इनकी नीचता को समझा जा सकता है

इनके हौसले इतने बुलंद हैं कि उन्होंने कई बार पुलिस को भी मारा पीटा तथा अपमानित किया है गरीबों और मजदूरों पर अत्याचार को यह अपनी शान समझते हैं इस मामले में थाना जैथरा एस.एच.ओ.डॉ.सुधीर कुमार राघव ने तत्परता दिखाते हुए इन अपराधियों के खिलाफ- 307,394,354,452,147,148,323504,जैसी धाराओं में मुकदमा लिख कर कार्रवाई की इनमें दीपू पांडे, लालू, चौंचू, शिवम, झाबूढा, कल्लू, अंशुल, सोनी, धवन, गुलेश,रामजाने, कृष्णा, व 4/5 अन्य लोग शामिल हैं l

संज्ञान में आया है कि पुलिस ने राजनैतिक दबाव में बैलेंस बनाने के लिए किसी करन सिंह पुत्र पुष्पेंद्र के नाम से एक और मुकदमा पंजीकृत किया है शिकायतकर्ता को शायद झूठा क्रॉस केस बनवाना भारी पड़ सकता है क्योंकि आरोपियों के पास ऐसे साक्ष्य हैं जिनसे यह साबित हो जाएगा कि यह क्रास केस झूठा बनाया गया है

अगर भाजपा नेताओं ने ध्यान नही दिया तो आने वाले 2024 के विधानसभा चुनाव में सत्ताधारी दल को इन गलत लोगों की वजह से नुकसान उठाना पड़ सकता है आम आदमी ऐसे ही लोगों से निजात चाहता है l जो किसी की भी इज्जत से खिलवाड़ करना हंसी मजाक समझते हैंl कस्बा जैथरा में जितने भी अपराध होते हैंl जैसे जुआ, शराब, सट्टा, जमीनों की घेर घार आदि उन सब में ऐसे ही लोग कहीं न कहीं सनलिप्त रहते हैं, हो सकता है आने वाले समय में यह लड़ाई खतरनाक मोड़ ले ले

राष्ट्रीय जजमेंट मीडिया ग्रुप लखनऊ उत्तर प्रदेश

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More