NCB जोनल डायरेक्टर समीर वानखेडे को आर्यन खान केस से हटाया गया

58

मुंबई: शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान केस में, मुंबई क्रूस पार्टी की जांच वाले मामले ने अब एक नया मोड़ ले लिया है, जिसके तहत एनसीबी ने आर्मायन खान केस मामले की जांच कर रहे इस केस के नेतृत्व जोनल अधिकारी ‘समीर वानखेड़े’ को इस जांच से हटा दिया गया है. आपको बता दें की में समीर वानखेडे़ पर 8 करोड़ रुपये की रिश्वत लेने के आरोप लगे हैं. वानखेड़े को हटाए जाने के बाद अब इस मामले की जांच करने के लिए वरिष्ठ पुलिस अधिकारी संजय सिंह के नेतृत्व में एसआईटी की क’मान इनको सौंपी गई है.

बताते चलें कि, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी एनसीपी के वरिष्ठ नेता नवाब मलिक जो वर्तमान में महाराष्ट्र सरकार के मंत्री भी हैं इन्होंने आर्यन खान केस जांच की दिशा एकदम से बदलकर रख दी है. वह आर्यन खान के जेल जाने के बाद से ही एनसीबी के कार्य करने तरीकों और NCB अधिकारी समीर वानखेड़े पर लगातार आरोप लगाते आए हैं. इसके अलावा उन्होंने कई ऐसे तथ्य लाकर सामने रखे हैं जिनकी वजह से आर्यन के केस में एक नया मोड़ आया है.

नवाब मलिक ने अपने ट्वीट में ये भी लिखा है कि या तो ये एएनआई समीर वानखेड़े को गलत तरीके से कोट करने की कोशिश कर रही है या फिर खुद समीर वानखेड़े देश को गुम’राह कर रहे हैं. आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े को हटाये जाने के बाद नवाब मलिक ने कहा: “ये तो बस शुरुआत है” जो समीर वानखेड़े को अभी 5 केसों से हटाया गया है, ऐसे 26 केस हैं जिनका सच अभी सामने आना बाकी है.

वहीं, इस मामले में समीर वानखेड़े ने एनडीटीवी से बातचीत में कहा कि मुझे किसी ने नहीं हटाया है, में उस मामले में कभी था ही नहीं, में जहाँ था अपनी ही जगह पर अभी भी वही हूँ.

साथ ही उन्होंने कहा की मैंने खुद ही इस केस में हाईकोर्ट में एक पि’टिशन दायर कर उनके मेरे ऊपर लगे सभी आरोपों की जांच सीबीआई और NIA जैसी केंद्रीय एजेंसी से जांच करवाने की मांग की है.

ध्यान दिला दें की महाराष्ट्र सरकार के मंत्री नवाब मलिक के आरोपों के बाद NCB के अधिकारी वानखेड़े एक बड़े विवा’द के केंद्र बने हुए हैं. सबसे ज़्यादा महत्वपूर्ण बात तो यह है कि आर्यन खान मामले में जांच एजेंसी एनसीबी के गवाह रहे प्रभाकर सैल ने उनके रिकॉर्ड और मामलों को संभालने पर भी सवाल उठाए थे.

इस केस में नवाब मलिक ने ट्वीट करके ये भी कहा है कि आर्यन खान केस समेत अन्य 5 मामलों में समीर वानखेड़े को हटा तो दिया गया है लेकिन ऐसे कुल 26 मामले और हैं जिनकी जांच कराई जाने की जरूरत है. अभी इस सिस्टम को साफ करने के लिए हमें अभी और बहुत कुछ करना है और वो हम करेंगे.

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More