महराजगंज :मनरेगा कार्य को लेकर दो पक्षों में हुआ खुनी संघर्ष, ग्रामीणों ने किया चक्का जाम

19

राष्ट्रीय जजमेंट न्यूज 

महराजगंज। स्थानीय ब्लाक क्षेत्र के चार गांवों में मनरेगा के तहत 96.65 लाख के घोटाले की आग अभी ठंडी भी नहीं हुई कि फिर मनरेगा में कार्य कराने को लेकर दो पक्षों में जमकर मारपीट होने से एक फिर घुघली ब्लाक सुर्खियों में आ गया है। हालांकि सीओ पुलिस फोर्स के साथ पहुंचे और समझा बुझाकर मामले को शांत कराया।

जानकारी के अनुसार घुघली ब्लाक के ग्राम सभा चैनपुर में मनरेगा का कार्य कराने को लेकर दो पक्षों में जमकर मारपीट हुई। एक पक्ष ने ग्रामीणों के साथ सुबाष चौक पर जाम कर दिया। जिससे लोगों को आने जाने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा। जाम की सूचना मिलते ही सीओ अजय सिंह चौहान पुलिस के साथ पहुंचे और जाम कर रहे लोगों को समझा बुझाकर जाम समाप्त कराया।

ग्रामीणों के अनुसार ग्राम प्रधान मनरेगा के कुछ कार्य करा रहे थे। तभी पुराने प्रधानपहुंच कर काम की गुणवत्ता का आरोप लगाते हुये काम को रोकवाने का प्रयास किया। जिसे पर दोनों में कहासुनी हो गयी और समर्थकों के बीच जमकर मारपीट हुई। जिससे ग्रामीणों ने सुबाष चौक पर पहुंच कर सडक़ जाम कर दिया। सीओ के समझाने बुझाने के बाद ग्रामीणों ने जाम समाप्त किया।

ग्रामीणों का कहना रहा कि मनरेगा के तहत होने वाले कार्य को सब लोग जानते है कि कैसे कार्य होते है। अगर कार्य हो रहा है तो कागजी कार्रवाई करनी चाहिये थी मौके पर कार्य रोकना पुराने प्रधान को महंगा पड़ गया। इनके कार्यकाल में भी तमाम गड़बड़ झाला हुआ है। अगर निष्पक्ष जांच करायी जाय तो मनरेगा योजना में हुये घोटाले का जिन्न बाहर आ जायेगा। जो लोग विरोध कर रहे है उनकी कलई खुलकर सामने आ जायेगी।

सुनिल कुमार (संवाददाता) 

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More