अनुराग कश्यप और तापसी पन्नू के घर छापेमारी के दौरान आयकर विभाग को बड़े पैमाने पर इनकम टैक्स चोरी के मिले सबूत

152

आर जे न्यूज़-

फिल्म निर्देशक अनुराग कश्यप और अभिनेत्री तापसी पन्नू के घर छापामारी के दौरान आयकर विभाग को बड़े पैमाने पर इनकम टैक्स चोरी के सबूत मिले हैं। मालूम हो कि तापसी और अनुराग कश्यप समेत फिल्म इंडस्ट्री से जुड़े कई लोगों और कंपनियों पर आयकर विभाग की छापेमारी और जांच चल रही है।

आयकर विभाग ने गुरुवार को जारी अपने बयान में बताया कि सर्च के दौरान इन प्रोडक्शन हाउस के आय और शेयर में बड़े पैमाने पर हेराफेरी के सबूत मिले हैं।  विभाग के अफसरों ने अनुराग कश्यप, तापसी पन्नू का बयान दर्ज किया। साथ ही विभाग ने कुछ लॉकर्स पर पाबंदी लगाई है। इस बीच खबर है कि आयकर विभाग के अफसरों को शक है कि तापसी पन्नू के मोबाइल फोन से कुछ डेटा डिलीट किया गया है। उन्हें आने वाले दिनों में जांच के लिए आईटी अधिकारियों द्वारा बुलाया जा सकता है।

इसके साथ ही आयकर विभाग का कहना है कि 5 करोड़ रुपये कैश पेमेंट लेने की रसीदें तापसी पन्नू के घर से बरामद हुई हैं। विभाग का कहना है कि कंपनी के अधिकारी 350 करोड़ रुपये के बारे में कोई जवाब नहीं दे पाए हैं। वहीं तापसी पन्नू के नाम पर 5 करोड़ की कैश रिस्पिट रिकवर हुई है जिसकी जांच जारी है।

विभाग ने आगे बताया कि फैंटम फिल्म्स की हिस्सेदारी बेचने में उसका अंडरवैल्यूएशन किया गया था। फिल्म डायरेक्टर्स और शेयरहोल्डर्स के शेयरों के लेनदेन को अंडरवैल्यूएट करके बताया गया था। आयकर विभाग का कहना है कि कुल 350 करोड़ रुपये के टैक्स की अनियमितता का मामला है। इसके अलावा 5 करोड़ रुपये के कैश लेनदेन की रसीदों के सबूत तापसी पन्नू से बरामद हुए हैं।

सीबीडीटी का कहना है कि आयकर विभाग सर्च और सर्वे ऑपरेशंस को अंजाम दे रहा है, जिसकी शुरुआत मुंबई में 2 प्रमुख फिल्म निर्माण कंपनियों, एक एक्ट्रेस और दो प्रतिभा प्रबंधन कंपनियों से 3 मार्च को हुई थी। मुंबई, पुणे, दिल्ली और हैदराबाद में सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है।

बता दें कि आयकर विभाग ने एक्ट्रेस तापसी पन्नू और फिल्मकार अनुराग कश्यप व उनके साझेदार के घरों और दफ्तरों पर बुधवार को छापेमारी की थी। अधिकारियों ने बताया था कि यह छापेमारी फैंटम फिल्म्स के खिलाफ कर चोरी की जांच का एक हिस्सा है।

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More