अगले माह से दूरदर्शन चैनल टीवी में  बंद, डीटीएच के माध्यम से ही देखा जा सकेगा दूरदर्शन

जबलपुर में तैनात 20 कर्मचारियों से तबादले के लिए मांगे आवेदन

142

जबलपुर। देश का पहला टीवी चैनल दूरदर्शन 62 साल बाद बंद होने जा रहा है। अब लोगों को दूरदर्शन साधारण तरीके से टीवी में देखने को नहीं मिलेगा इसके लिए डीटीएच या फिर रिचार्ज होने वाले केबिल बॉक्स में ही देखने को मिलेगा।

दूरदर्शन के उपनिदेशक अनिल कुमार खरे ने इसके आदेश जारी करते हुए जबलपुर कार्यालय के कर्मचारियों से दूसरे स्थानों पर तबादले पाने के लिए आवेदन मांगा है।

Doordarshan channel closed in TV from next month, Doordarshan can be seen only through DTH

जबलपुर केंद्र का शहर और आसपास 15 से 20 किलोमीटर दूर तक प्रसारण हो रहा है। दूरदर्शन अनुरक्षण केंद्र भोपाल के अधीन यह केंद्र संचालित है। इसमें समय-समय पर स्थानीय साहित्यकारों, कृषि, स्वास्थ्य, पशुधन विशेषज्ञों के साथ जनहित से संबंधित साक्षात्कार और अन्य कार्यक्रम प्रसारित होते रहे हैं। रंगमंच और साहित्यिक जगत से जुड़े स्थानीय लोगों के मंच साझा करने का एक माध्यम था।

जबलपुर में 1984 में दूरदर्शन चैनल की शुरूआत हुई

टीवी, जब पहली बार लोगों के घरों में आया तो उनके लिए ये किसी चमत्कार से कम नहीं था। टीवी आने की इतनी खुशी जितने किसी बच्चे के जन्म पर होती है। शहर में टीवी की दस्तक ने ग्रामीण क्षेत्रों तक में हलचल पैदा कर दी थी।

ग्रामीण टीवी देखने शहर अपने रिश्तेदारों के यहां आते थे, कई बार तो मित्र या किसी परिचित के घर जाकर टीवी देखने में संकोच नहीं होता था। उन दिनों टीवी की दुनिया बहुत छोटी थी, लेकिन साल 1984 में दूरदर्शन चैनल की शुरूआत होने के बाद लोगों के जीवन में कई बदलाव आए।

also read-अखिलेश यादव से मिले पूर्व प्रदेश अध्यक्ष आरएस कुशवाहा, जल्द हो सकते हैं सपा में शामिल

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More