सब कुछ कर सकती हैं बेटियां:डीएम

56

RJ news

*पुलिस अधीक्षक ने बेटियों को बताएं सिविल सेवा परीक्षा में कामयाबी के गुर*

देवरिया राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर राजकीय इंटर कॉलेज हॉल में गोष्ठी का आयोजन हुआ। गोष्ठी को संबोधित करते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि बेटियां अपनी क्षमता को पहचाने और अपने जीवन का लक्ष्य बड़ा बनाएं। वे सब कुछ कर सकती हैं। बेटियों के लिए कुछ भी असंभव नहीं।जिलाधिकारी ने कहा की लड़कियों में प्रतिभा अधिक होती है। माता-पिता को अपनी बेटियों को अच्छी से अच्छी शिक्षा उपलब्ध करानी चाहिए। यदि बेटी पढ़ती है तो उसके साथ पूरा परिवार पढ़ता है।

पुलिस अधीक्षक संकल्प शर्मा ने सभी छात्राओं को बालिका दिवस की बधाई दी। उन्होंने छात्राओं को सिविल सेवा परीक्षा में उत्तीर्ण होने के गुर भी सिखाए। पुलिस अधीक्षक ने कहा कि पढ़ाई करते समय रटने की बजाए कारण जानने पर ज्यादा फोकस रहना चाहिए। विभिन्न विषयों को अलग-अलग कॉन्टेक्स्ट में को-रिलेट करना चाहिए। उन्होंने कहा कि सिविल सेवा परीक्षा में राइटिंग स्किल की विशेष महत्ता होती है। अपने ज्ञान को शब्दों के माध्यम से संक्षिप्त एवं प्रभावी तरीके से व्यक्त करने के लिए निरंतर लेखन का अभ्यास सफलता की कुंजी साबित हो सकता है। मेहनत और लगन किसी भी लक्ष्य को हासिल किया जा सकता है।

इस अवसर पर भाषण प्रतियोगिता का भी आयोजन हुआ, जिसमें रिया राय को प्रथम, शुभांगी सिंह को द्वितीय तथा शालिनी सिंह, प्रियंका यादव एवं शिवांगी पांडेय को संयुक्त रूप से तृतीय स्थान प्राप्त हुआ। जिलाधिकारी ने समस्त विजेताओं को ट्रॉफी देकर सम्मानित किया। इससे पहले कार्यक्रम का औपचारिक प्रारंभ दीप प्रज्वलन एवं सरस्वती वंदना के साथ हुआ। इस अवसर पर सीडीओ रवींद्र कुमार, सीएमओ डॉ राजेश झा, डीआईओएस विनोद कुमार राय, जीआईसी के प्रधानाचार्य पीके शर्मा सहित विभिन्न अधिकारी मौजूद थे।

शिवप्रताप कुशवाहा ब्यूरो चीफ

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More