सनकी महिला ने फांसी लगाकर दी जान , बच्ची के रोने पर घटना का चला पता

43

आर जे न्यूज़-

फर्रुखाबाद | ज़िद्दी पृवत्ति की महिला प्रीति यादव ने घर में ही फांसी लगाकर जान दे दी। जब उसकी बालिका रोई तब पड़ोसियों को घटना का पता चला। पिंकी थाना- मऊदरवाजा के ग्राम गुचलियाई निवासी- मनोज यादव की 24 वर्ष पत्नी थी। पिंकी ने बीती शाम लोहे की सीड़ी की सरिया में रस्सी से फांसी लगा ली। जब पिंकी की सवा साल की बेटी बुरी तरह रोने लगी, तब पड़ोसी पिंकी के घर गए, तो वह पिंकी को लटकता देख कर चकित रह गए। तब तक पिंकी की मौत हो चुकी थी। चारपाई पर ही बालिका बैठी रो रही थी। फांसी लगाने से पहले पिंकी ने बेटी को खाने के लिए पापे दिए थे।

थोड़ी देर बाद ही मनोज खेत से घर पहुंचा। मनोज खेत से गन्ने की लोडिंग करवा रहा था. वह सुबह घर से मजदूरों के लिए खाना बनवा कर ले गया था। जनपद- हरदोई, थाना- अरवल के ग्राम- कैथनपुरवा निवासी प्रीति का करीब 5 वर्ष पूर्व मनोज से विवाह हुआ था। प्रीति का करीब 4 साल का बेटा है, जिसको उसके ननिहाल वाले एक सप्ताह पूर्व ही बुला कर ले गए थे। मनोज ने खेती कार्य के कारण बेटे को ससुराल भिजवा दिया था। प्रीति का कानपुर से इलाज चल रहा था। उसने परसों ही अपनी ताई को फोन कर बताया था कि मुझे मौत भी नहीं आ रही है।

प्रीति ने अपना अलग मकान बनवाया है। एक सप्ताह पूर्व ही मकान का लेंटर पड़ा था। आज सुबह सी.ओ. सिटी राजवीर सिंह एवं इंस्पेक्टर जयप्रकाश शर्मा ने मामले की जांच पड़ताल की. पुलिस ने मनोज को हिरासत में लेकर थाने भिजवा दिया। तहसीलदार सदर राजू वर्मा ने शव का पंचनामा भरवाया, मायके वाले प्रीति का बच्चा लेकर मौके पर पहुंच गए हैं।पुलिस मामले की छानबीन कर रही है। पुलिस हिरासत में बैठे मनोज से भी पूछताछ जारी है।

फर्रुखाबाद से विक्रांन्त सिन्हा की रिपोर्ट

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More