गोरखपुर में 1200 करोड़ रुपये की लागत से बनेगा एशिया का सबसे बड़ा इथेनाल प्‍लांट

188
गोरखपुर जिले में बलिया जिले की एक कंपनी 1200 करोड़ रुपये रुपये से एशिया का सबसे बड़ा इथेनाल प्‍लांट स्‍थापित किया जा रहा है। इस कंपनी की स्‍थापना से पांच हजार लोगों को रोजगार भी मिलेगा। प्रदेश में योगी सरकार -2 बनने के बाद से बेरोजगार युवाओं को रोजगार देने की तैयारी शुरु हो गई है। इसके लिए नगरा निवासी बलिया के युवा उद्यमी विनय कुमार सिंह ने पहल शुरु कर दी है। इनकी कंपनी मेसर्स केयान डिस्टिलरीज गोरखपुर के गीडा में एशिया का सबसे बडा इथेनाल प्लांट स्थापित करने जा रही है। इसके लिए 80 एकड जमीन की व्यवस्था की गई है।
गुरुवार को सीईओ पवन अग्रवाल ने गीडा में भूमि का निरीक्षण किया। कंपनी के एमडी विनय कुमार सिंह ने बताया कि इसके लिए इंडियन आयल के साथ करार हो चुका है। प्रत्येक दिन करीब 3.50 लाख लीटर इथेनाल का उत्पादन होगा। इसके अलावा डिस्टिलरी प्लांट में शराब और बीयर आदि का भी उत्पादन होगा। प्लांट पर करीब 1200 करोड रुपए खर्च होंगे।
एमडी के अनुसार डिस्टिलरी प्लांट में करीब 15 मेगावाट बिजली का भी उत्पादन होगा। प्लांट में खर्च होने के बाद अतिरिक्त बिजली को ग्रिड में भेजा जाएगा। इससे भी प्लांट की आमदनी होगा। बताया कि इस प्लांट में मुख्य रुप से चावल, जौ व मक्का का प्रयोग होगा। इसके लिए कच्चे माल के तौर पर चावल, मक्का बिहार व बंगाल से आएगा। मुख्य रुप से बिहार के गुलाबबाग क्षेत्र से चावल की आपूर्ति होगी।

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More