आशा बहु और माँ शारदा हॉस्पिटल की लापरवाही से गर्भवती महिला की गई जान

52

आर जे न्यूज़-

सुल्तानपुर बल्दीराय थाना क्षेत्र के अंतर्गत जय मां शारदा हॉस्पिटल काफी दिनों से संचालित हो रहा है राजाराम पुत्र स्वर्गीय नाथूराम ग्राम अशरफ पुर पूरे मल्हन का पुरवा अपनी पत्नी पूनम उम्र लगभग 33 वर्ष गर्भवती थी दिनांक 16/03/2021 को डिलीवरी के संदर्भ में गांव के ही आशा बहू श्रीमती राधा दुबे ने एनम सेंटर ले जाने की सलाह दी वहाँ मौजूद एनम श्रीमती रूबी के पति ने फोन करके जय मां शारदा हॉस्पिटल ग्राम सैनी मां शारदा हॉस्पिटल ले गये उन्होंने परिवार क़ो भरोसा दिया की वहाँ सब ठीक हो जाएगा |

गर्भवती पूनम क़ो भर्ती करा दिया गया मां शारदा हॉस्पिटल अस्पताल में मौजूद संचालक राजेश कुमार साहनी व डॉक्टर राम प्रसाद शुक्ला अरुण मिश्रा तीनों लोगों ने मिलकर समय करीब शाम 6 बजे गर्भवती पूनम का ऑपरेशन किया ऑपरेशन के दौरान बच्चे की मृत्यु हो गई और आप्रेशन से गर्भवती पूनम के शरीर से काफ़ी खून बह जाने के कारण ज़ब हालत ज्यादा बिगड़ने लगी तो मां शारदा हॉस्पिटल के संचालक राजेश कुमार ने सुल्तानपुर ले जाकर इलाज कराने क़ो बिना कोई डिस्चार्ज पेपऱ और कोई रेफर का कागज दिये |

सुल्तानपुर भेज कर न केवल बड़ी लापरवाही की बल्कि डॉक्टर के पेशे को कलंकित किया गर्भवती पूनम कि शरीर से खून बह जाने के कारण किसी भी अस्पताल में भर्ती नहीं किया गया जा सका गर्भवती पूनम के हालात बिगड़ते देख परिवार लखनऊ ले ले जा रहे थे अलीगंज के पास रास्ते में ही हालात ज्यादा बिगड़ जाने के कारण मृत्यु हो गई |

परिवार मृत गर्भवती पूनम को लेकर मां शारदा हॉस्पिटल पहुँचे मां शारदा हॉस्पिटल के संचालक ने पैसे लेकर मामला से रफा दफा करने की किकोशिश की जिसकी शिकायत थान बल्दीराय से की गई जिले मे ऐसे न जाने कितने हॉस्पिटल है जिन्हे न तो कही से मान्यता प्राप्त है और न ही इन झोला छाप डॉक्टर के पास क़ो डिग्री लेकिन प्रशासन की आशा बहु और माँ शारदा हॉस्पिटल की लापरवाही से गर्भवती महिला की गई जान

सुल्तानपुर बल्दीराय थाना क्षेत्र के अंतर्गत जय मां शारदा हॉस्पिटल काफी दिनों से संचालित हो रहा है राजाराम पुत्र स्वर्गीय नाथूराम ग्राम अशरफ पुर पूरे मल्हन का पुरवा अपनी पत्नी पूनम उम्र लगभग 33 वर्ष गर्भवती थी दिनांक 16/03/2021 को डिलीवरी के संदर्भ में गांव के ही आशा बहू श्रीमती राधा दुबे ने एनम सेंटर ले जाने की सलाह दी वहाँ मौजूद एनम श्रीमती रूबी के पति ने फोन करके जय मां शारदा हॉस्पिटल ग्राम सैनी मां शारदा हॉस्पिटल ले गये | उन्होंने परिवार क़ो भरोसा दिया की वहाँ सब ठीक हो जाएगा गर्भवती पूनम क़ो भर्ती करा दिया गया मां शारदा हॉस्पिटल अस्पताल में मौजूद संचालक राजेश कुमार साहनी व डॉक्टर राम प्रसाद शुक्ला अरुण मिश्रा तीनों लोगों ने मिलकर समय करीब शाम 6बजे गर्भवती पूनम का ऑपरेशन किया |

ऑपरेशन के दौरान बच्चे की मृत्यु हो गई और आप्रेशन से गर्भवती पूनम के शरीर से काफ़ी खून बह जाने के कारण ज़ब हालत ज्यादा बिगड़ने लगी तो मां शारदा हॉस्पिटल के संचालक राजेश कुमार ने सुल्तानपुर ले जाकर इलाज कराने क़ो बिना कोई डिस्चार्ज पेपऱ और कोई रेफर का कागज दिये सुल्तानपुर भेज कर न केवल बड़ी लापरवाही की बल्कि डॉक्टर के पेशे को कलंकित किया गर्भवती पूनम कि शरीर से खून बह जाने के कारण किसी भी अस्पताल में भर्ती नहीं किया गया जा सका गर्भवती पूनम के हालात बिगड़ते देख परिवार लखनऊ ले ले जा रहे थे |

अलीगंज के पास रास्ते में ही हालात ज्यादा बिगड़ जाने के कारण मृत्यु हो गई परिवार मृत गर्भवती पूनम को लेकर मां शारदा हॉस्पिटल पहुँचे मां शारदा हॉस्पिटल के संचालक ने पैसे लेकर मामला से रफा दफा करने की कि कोशिश की जिसकी शिकायत थान बल्दीराय से की गई जिले मे ऐसे न जाने कितने हॉस्पिटल है जिन्हे न तो कही से मान्यता प्राप्त है और न ही इन झोला छाप डॉक्टर के पास न क़ोई डिग्री लेकिन प्रशासन की लापरवाही से ऐसे हॉस्पिटल और डॉक्टर लोगों की जिंदगी से खेल रहे हैं मामला थाना बल्दीराय में है जहां एफ आई आर दर्ज कर ली गई है और पुलिस अपनी कार्यवाही कर रही है |

सुल्तानपुर बल्दीराय से मुकेश दुबे की रिपोर्ट

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More