अभिनेत्री कंगना रणौत ने किसानों से माफी मांगने के बाद फिर बदले अपने तेवर

57

बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रणौत की कार को पंजाब में नाराज किसानों की भीड़ ने घेर लिया। जब कृषि कानूनों के विरोध में किसान धरना प्रदर्शन कर रहे थे उस दौरान भी कंगना ने किसानों पर विवादस्पद टिप्पणियां की थीं, जिसके बाद से ही कई लोग उनसे नाराज थे। पहले यह घेराव चंडीगढ़-ऊना नेशनल हाईवे पर कीरतपुर साहिब में किया गया। भीड़ के गुस्से को देखकर कंगना गाड़ी से बाहर निकलीं और माफी मांगी। लेकिन यहां से निकलते ही कंगना के तेवर फिर बदल गए।

मैंने नहीं मांगी किसी से माफी
कंगना ने किसीनों से माफी मांगने को लेकर अपनी इंस्टाग्राम स्टोरी पर इस घटना को लेकर अपना पक्ष रखा। कंगना ने लिखा- मुझे किसी ने माफी मांगने को नहीं कहा और मैं किसी से माफी क्यों मांगूगी। मैं कोई किसान विरोधी नहीं हूं, और माफी मांगने का तो सवाल ही नहीं उठता। हां वो लोग थोड़े नाराज थे, मुझे लेकर उन्हें कुछ शिकायतें थीं। मैंने उनके गिले शिकवे सुने और अपनी बात समझायी।

कंगना ने आगे लिखा, महिलाओं से पूरी बातचीत किसी और विषय पर थी। सभी मीडिया के कैमरे वहां मौजूद थे। कृपया अफवाह न फैलाएं। मैंने हमेशा किसानों का समर्थन किया है इसलिए कृषि बिल के पक्ष में अपनी बात रखी थी और आगे भी रखूंगी। जय हिंद।

हालांकि, प्रदर्शनकारियों से घिरी अभिनेत्री कंगना रनौत ने कुछ महिला किसानों से बात की। महिला किसानों से बात करने के बाद उन महिलाओं ने अन्य किसानों को समझाया और उनको सुरक्षित निकालते हुए तत्काल आंदोलनस्थल छोड़ने को कहा।

किसानों के बीच से निकलने के बाद कंगना रनौत ने अपने इंस्टाग्राम पर पोस्ट किया है। उसने अपनी इंस्टाग्राम स्टोरीज पर पोस्ट किए गए एक वीडियो में दावा किया कि मुझे यहां भीड़ ने घेर लिया है। वे मुझे गालियां दे रहे हैं और मुझे जान से मारने की धमकी दे रहे हैं। उन्होंने बताया कि यह सार्वजनिक रूप से मॉब लिंचिंग है। अगर मेरे पास सुरक्षा नहीं होता तो जाने क्या होता। यहां स्थिति अविश्वसनीय है। क्या मैं एक राजनेता हूं? यह व्यवहार क्या है?

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More