माढ़ोताल से गायब 5 वीं का छात्र भोपाल में मिला : भाई के कपड़े फट गए थे, नए दिलाने गया था बड़े शहर

52

दैनिक राष्ट्रीय जजमेंट न्यूज़
जबलपुर। माढ़ोताल की पुरानी बस्ती स्थित शासकीय स्कूल से पांचवी में पढऩे वाले दो छात्र स्कूल से घर नहीं लौटे। परिजनों की रिपोर्ट पर पर पुलिस ने अपहरण का मामला दर्ज किया था। जिसके बाद दोनों छात्र भोपाल जीआरपी को मिले। दोनेां स्टेशन में संदिग्ध अवस्था में खड़े थे, जिनसे पूछताछ की तो दोनों ने बताया कि वह कपड़े खरीदने भोपाल आए है।

जिसके बाद दोनों को जीआरपी ने चाइल्ड केयर को सौंप दिया और मामले की सूचना माढ़ोताल पुलिस को दी। आज सोमवार को संभवत: शाम तक दोनो छात्र शहर पहुंच जाएंगे। जहां उन्हें परिजनों के सुपुर्द कर दिया जाएगा।पुलिस ने मामले की जानकारी देते हुए बताया कि बबीता महदेले पति जससिंह महदेले 30 वर्ष मूलत: ग्राम पड़वार थाना सिमरिया जिला पन्ना के निवासी है। लेकिन मजदूरी करने के लिए वर्तमान में रमेश पटैल का मकान माढ़ोताल पुरानी बस्ती में रह रहे है।

उनका 11 वर्षीय बालक पुरानी बस्ती स्थित शासकीय स्कूल में पढ़ता था। जो कल शाम को घर नहीं पहुंचा। तो वहीं, पुरानी बस्ती में रहने वाले 14 वर्षीय बालक की माता दीपा अहिरवार पति स्व दीनदयाल अहिरवार उम्र 32 साल ने बताया था कि उनका बालक भी शासकीय स्कूल, पुरानी बस्ती का छात्र है। जो कल 10 बजे स्कूल गया था, लेकिन शाम को 4 बजे के बाद भी घर नहीं आया। बहुत पता किया, लेकिन कुछ पता नहीं चला।किसी ने बताया था- भोपाल में मिलते है

अच्छे कपड़े भोपाल जीआरपी ने जब दोनों बालकों को दस्तयाब कर पूछताछ की तो पता चला कि बालक अबोध है। किसी ने बताया था कि नए कपड़े भोपाल में मिलते है। जो बहुत अच्छे होते है। जिसके बाद दोनों दोस्तों ने प्लान बनाया और जबलपुर रेलवे स्टेशन से ट्रेन में बैठकर भोपाल पहुंच गए। जहां वह कपड़े खरीदने ही वाले थे कि तभी जीआरपी पुलिस की नजर दोनों बालकों पर पड़ गयी।

स्टेशन पहुंचने ही दोनेां यहां-वहां देख रहे है। जिन्हें जब जबलपुर लाया जा रहा है।पहले की थी चोरी पुलिस ने बताया कि दोनों बालक शैतान प्रवत्ति के है। इसके पहले भी दोनों ने एंगल आदि की चोरी की थी, लेकिन पुलिस ने समझईश देकर जाने दिया था। दोनों ही चंचल है और यहां-वहां घूमते रहते है। फिलहाल दोनों के मिलने के बाद परिजनों ने राहत की सांस ली है।

मध्य प्रदेश जबलपुर से सुनील केवट की रिपोर्ट

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More