Fadnavis's big attack on Shiv Sena for breaking the office of Kangana Ranaut, why the government is not demolishing Dawood's house
महाराष्ट्र सरकार और बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रणौत के बीच तनातनी जारी है। मुंबई पुलिस ने उनके खिलाफ ड्रग्स मामले में जांच शुरू कर दी है। मुंबई पुलिस को मामले की जांच के लिए महाराष्ट्र सरकार से आधिकारिक तौर पर पत्र मिला है। अब इस मामले पर भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस ने शिवसेना पर निशाना साधा है। उन्होंने राज्य सरकार से कहा है कि आपने दाउद का घर छोड़ दिया और कंगना का तोड़ दिया। वहीं शरद पवार का कहना है कि इसमें राज्य सरकार की कोई भूमिका नहीं है।
कंगना नहीं हैं कोई राजनेता: देवेंद्र फडणवीस
महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस ने कहा, ‘कंगना रणौत के मुद्दे को आपने (शिवसेना) बेवजह तूल दे दी है। वो कोई राजनेता नहीं हैं। आप दाऊद के घर को तोड़ने के लिए नहीं जाते हैं लेकिन आपने उनके दफ्तर को तोड़ दिया।’ इससे पहले उन्होंने हिंदी में ट्वीट कर कहा था कि यह एक तरह से राज्य में ‘सरकार द्वारा प्रायोजित आतंक’ है।
सरकार की नहीं है कोई भूमिका: शरद पवार
कंगना का दफ्तर तोड़े जाने पर राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष शरद पवार ने कहा, ‘यह निर्णय बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) ने लिया था। राज्य सरकार की इसमें कोई भूमिका नहीं थी। बीएमसी ने अपने नियमों और विनियमों का पालन किया।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.