Ahmed Patel file photo
Ahmed Patel file photo

नई दिल्ली. ईडी की एक टीम ने शनिवार को संदेसरा बंधुओं (स्टर्लिंग बायोटेक फार्मा) से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में कांग्रेस के सीनियर लीडर अहमद पटेल से पूछताछ की। ईडी ने यह पूछताछ पटेल के दिल्ली में उनके घर की। 2017 में गुजरात की स्टर्लिंग बायोटेक फार्मा कंपनी पर करोड़ों रुपए की मनी लॉन्ड्रिंग का आरोप लगा था। इस कंपनी के प्रमोटर चेतन और नितिन संदेसरा हैं। अगस्त 2019 में अहमद पटेल के बेटे फैसल से भी इस बारे में पूछताछ की जा चुकी है।

दो बार हाजिर नहीं हुए थे अहमद पटेल
अहमद पटेल गुजरात से राज्यसभा सांसद भी हैं। जांच एजेंसी ने उन्हें दो बार इसी मामले में पूछताछ के लिए तलब किया था। तब पटेल ने जांच एजेंसी से कहा था कि वो सीनियर सिटीजन हैं और कोविड-19 के लिए केंद्र सरकार ने घर में रहने की गाइडलाइंस जारी की हैं। लिहाजा, वो पूछताछ में शामिल नहीं हो सकते। जांच एजेंसी ने इससे सहमति जताई थी। इसके बाद शनिवार को अफसरों ने पटेल के घर जाकर उनसे पूछताछ की।

तीन साल पहले सामने आया था मामला
आरोप है कि स्टर्लिंग बायोटेक के नाम पर आंध्रा बैंक से पांच हजार करोड़ का कर्ज लिया गया था। कई नोटिस के बावजूद कंपनी प्रमोटर्स ने रकम वापस नहीं की। बैंक ने इसकी शिकायत सीबीआई से कर दी। बाद में जांच ईडी को सौंप दी गई। उसने दिल्ली और गाजियाबाद में सात स्थानों पर छापेमारी की थी। जिन लोगों के यहां छापेमारी की गई थी, वो पटेल के करीबी बताए गए थे। अगस्त 2019 में पटेल के बेटे फैसल और दामाद से भी पूछताछ की जा चुकी है। वैसे, यह मामला कुल 14 हजार 500 करोड़ रुपए का बताया जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.