लामबंद हुआ ब्राहम्ण समाज, न्यायिक जांच की मांग, निलंबित एसपी मामले में की जा रही लीपापोती

0 11
महोबा 10 अगस्त। भ्रष्टाचार के आरोप में पुलिस अधीक्षक मणिलाल पाटीदार को शासन ने गतदिवस निलंबित कर दिया उन पर यहां के एक प्रतिष्ठित व्यापारी द्वारा घूस मांगे जाने का आरोप लगाया गया था साथ ही जान से मारने की धमकी दी जाने की भी बात कहीं गयी थी। अब इसी मामले में ब्राहम्ण समाज व्यापारी के पक्ष में लामबंद हुआ है और मामले में न्यायिक जांच की शासन से मांग की गयी है इस मामले में मुख्यमंत्री को ब्राहम्ण समाज द्वारा एक ज्ञापन भी भेजा गया है।
राष्ट्रीय परसुराम युवा वाहिनी के प्रदेश प्रभारी आशीष महाराज, अखिल भारतीय ब्राहम्ण महा सभा के अनुज द्विवेदी, दीपक द्विवेदी, अजय दीक्षित, कृष्ण गोपाल द्विवेदी, आदर्श तिवारी, देवेन्द्र शुल्लेरे ने जिलाधिकारी के माध्यम से मुख्यमंत्री को एक मांग पत्र भेजा है। जिसमें कहां गया है कि कबरई के इन्द्रकान्त त्रिपाठी एक प्रतिष्ठित व्यक्ति है और जिले के व्यापारी है।
संगठन का कहना है कि इन्द्रकान्त त्रिपाठी ने पुलिस अधीक्षक मणिलाल पाटीदार पर भ्रष्टतम् आचरण करते हुये जबरदस्ती छह लाख रुपये हर महीनें देने के लिये कहां था जब त्रिपाठी ने इस पर असमर्थता जाहिर की तो निलंबित एसपी मणिलाल पाटीदार द्वारा उन्हें जानसे मारने की धमकी और फर्जी मुकदमें में फंसाये जाने की बात कही थी।
ब्राहम्ण संगठन का कहना है कि इस मामले को लेकर इंन्द्रकान्त त्रिपाठी द्वारा 5 सितंबर 2020 को उच्चाधिकारियों को प्रार्थना पत्र प्रेरित किये गये थे जिसमे ंउन्होंने अपनी जान का खतरा होने की आशंका जाहिर की थी इसी दरमियान 6 सितंबर 2020 को जब इन्द्रकांत त्रिपाठी किसी काम से बांदा से कबरई की ओर आ रहे थे तभी नहदौरा के पास उनके ऊपर जानलेबा हमला किया गया उनके गले में गोली लगी और वह जीवन मृत्यु के बीच जूझ रहे है।
मुख्यमंत्री को भेजे गये मांग पत्र में संगठन का कहना है कि इस मामले में सीएम द्वारा संज्ञान लेते हुये महोबा के एसपी मणिलाल पाटीदार को निलंबित कर दिया गया लेकिन उनके कुछ सहयोगी अभी भी घटना की लीलापोती करने की कोशिश कर रहे है ऐसी स्थिति में जिले व आस-पास के ब्राहम्ण समाज में रोष है। मांग की गयी है कि उपरोक्त घटना की न्यायिक जांच अथवा सीबीआई जांच कराना आवश्यक है।
राष्ट्रीय जजमेंट के लिए महोबा से काजी आमिल की रिपोर्ट

Leave A Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More