शहर जगमगाया रंगबिरंगी रोशनी से,लोगों में दिखा उत्सव का उत्साह

0 7
आज़मगढ़,। घर-आगन और बरामदों को विद्युत झालरों से जगमग किया। इंद्रधनुषी रंगों से मन की कल्पनाओं को चटख रंगोली के जरिए आकार दिया।

 

घरों-देवालयों के द्वार पर दीपमालाएं सजाई। आतिशबाजी की, पटाखे बजाए और ज्योति पर्व को धूमधाम से मनाया।
कार्तिक कृष्ण अमावस्या पर बुधवार को सुबह ही दुनियावी दुश्वारियों की पोटली को खूंटी पर टांग मानों पूरे शहर पर त्योहारी खुमार छाया रहा। रोजमर्रा की भागदौड़ से मुंह मोड़ हर ओर मिशन दीपावली की होड़ ही नजर आई।
धनतेरस व छोटी दीपावली पर खरीदारी में रह गई कोर कसर पूरे दिन पूरी की, खील-बताशा, कंदील, दीया-दीयरी खरीद कर परंपरा की थाती को भी समृद्धि दी। उपहार के लिए मिठाई की दुकानों पर आर्डर बुक कराए तो भैया दूज के लिए भड़ेहर, लावा व चीनी की मिठाइयां भी खरीद ली।
पटाखा बाजार में इस कदर खरीदारी की मारामारी मानों जमीन से लेकर आसमान तक आतिशबाजी से जगमगाने की तैयारी हो। बिजली की दुकानों पर झालरों व बल्बों की मांग ने तैयारियों का हाल बयान किया।
पूरे दिन लोगों ने युद्ध स्तर पर इसे अभियान की तरह लिया और शाम होते-होते जैसे पूरा नक्शा ही बदल गया। बरामदों-चहारदीवारी तक झालर टंग गए तो बच्चों ने भी खूब पटाखे फोड़े। रंग-बिरंगी आतिशबाजी से पूरा आसमान रंगीन हो उठा।
धूम धड़ाम का शोर शुरू हुआ तो देर रात तक जारी रहा। मां-लक्ष्मी गणेश की पूजा के बाद ऐसा लग रहा था कि पूरा माहौल उत्सवी हो गया है। चारों तरफ एक-दूसरे को गले मिलकर दीपावली की जहां बधाइयां दी गई, वहीं मुस्लिम भाइयों ने भी बधाई दी।
सोशल मीडिया पर सुबह से ही इसकी धूम थी। इसकी वजह से वाट्सएप भी सतत् गतिमान रहा। लगातार लोगों के मैसेज आ रहे थे।
दीपावली की शाम का सबको इंतजार था। जैसे ही शाम हुई पूजन-अर्चन शुरू हो गया। खासकर लड्डू व मिठाई चढ़ाकर लोगों ने एक-दूसरे को दीपावली की बधाइयां दी। युवाओं के साथ ही बच्चों में गजब का उत्साह देखने को मिल रहा है।
वह पटाखे छोड़कर खुशियां मना रहे थे। सबसे ज्यादा लोग फुलझड़ियों का इस्तेमाल कर रहे थे। बड़े लोग आसमान में कई धमाका व रंग वाले पटाखे छोड़कर आसमान की फिजां ही बदल रहे थे। यह क्रम देर रात तक चलता रहा।
चारों तरफ दीपावली का जश्न दिखता रहा। धूम-धड़ाम व तड़क भड़क से हर कोई खुशियों से सराबोर होता रहा।
यह भी पढ़ें: छात्राओं ने ‘Save Girl’ की आकर्षक रंगोली बनाकर की अपील
शहर की सभी बिल्डिगों को आकर्षक लाइटों से जगमग कर रही थीं। मंदिरों को भी बेहतर ढंग से सजाया गया था।

Leave A Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More