जिलाधिकारी ने शौचालय हेतु धन आवंटन में शिथिलता बरते पर ए0डी0ओ0 पंचायत व ग्राम पंचायत सेकेट्री को प्रतिकूल प्रविष्टि तथा खण्ड विकास अधिकारी को चेतावनी जारी करने के दिये निर्देश

0 3
देवरिया,। प्रदूषण बढ़ने से आपके जीवन के साथ-साथ आपकी कृषि पर भी इसका असर होता है जिससे आपको मंशानुरूप फसलोत्पादन नहीं मिल पाता है और आपकी आमदनी नहीं बढती है,

 

इसलिए पराली आदि खेतो में पुआल न जलाये और कीटनाशक दवाओ सहित उर्वरकों का प्रयोग भी वैज्ञानिकों द्वारा निर्धारित मात्रा में करें तभी आपकी फसलोत्पाद भी बढेगी और
आपकी आमदनी में भी बढ़ोतरी होगी। इसके लिए सरकार हर संभव प्रयासरत है कि किसानों को उनकी फसल का अधिकाधिक मूल्य मिल सके।
जिलाधिकारी अमित किशोर ने उपरोक्त विचार तहसील सलेमपुर के विकास खंड के ग्राम नोनापार में आयोजित चैपाल में लोगों की समस्याओं को सुनने के उपरांत व्यक्त किए।
उन्होंने कहा कि सरकार आप लोगों के विकास एवं आर्थिक स्थिति मजबूत करने के लिए हर वर्ग/समाज के लिए योजनाएं संचालित कर रही है। इसकी पात्रता में आने वाले लोग अपना योजनाओं में पंजीकरण कराकर अधिकाधिक लाभ प्राप्त करें।
उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा विभिन्न प्रकार की पेंशन यथा- दिव्यांगजन, विधवा, किसान पेंशन आदि की व्यवस्था ह।ै इस प्रकार कृषि विभाग द्वारा कृषि यंत्रों पर छूट पहले आओ पहले पाओ के आधार पर दी जाती है तथा
बीज एवं उर्वरक पर भी छूट मिलती है। गरीबी दूर करने के लिए महिला स्वयं सहायता समूह के गठन पर उन्हें रोजगार करने के लिए ऋण आदि भी उपलब्ध करा जाता है।
पी0डब्ल्यू0डी0 की काफी समय से खराब टूटी सड़क की शिकायत पर संबंधित ए0ई0 व जे0ई0 को चेतावनी देते हुए निर्देश दिए कि एक माह में सही कराएं अन्यथा विभागीय कार्यवाही की जाएगी।
शौचालय के लिए चयनित पात्रों को धनराशि आवंटन में लापरवाही बरतने पर ए0डी0ओ0 पंचायत व ग्राम पंचायत सेक्रेट्री को प्रतिकूल प्रविष्टि व बी0डी0ओ0 को चेतावनी देने के निर्देश दिए। 
चैपाल में मनरेगा, कृषि, एन0आर0एल0एम0, उद्यान विभाग, समाज कल्याण, आपूर्ति विभाग, नलकूप विभाग सहित बारी-बारी से वभागीय अधिकारियों ने अपने अपने विभाग की योजनाओं की जानकारी दी।
इस अवसर पर नलकूप, विद्युत आदि की शिकायतें प्राप्त हुई, जिस पर जिलाधिकारी ने संबंधित अधिकारियों को संज्ञान लेते हुए दुरुस्त कराने के निर्देश दिए।
धान क्रय केंद्र गांव में खुलवाने की मांग पर डिप्टी आर0एम0ओ0 को आदेशित किया कि नियमानुसार धान क्रय केंद्र की स्थापना कराएं, जिससे किसानों को परेशान ना होना पड़े।
जिलाधिकारी ने स्वच्छता कार्यक्रम के तहत शौचालय के निर्माण व उनके प्रयोग पर प्रकाश डालते हुए कहा कि जो वास्तव में पात्र हैं उन्हें इसके लिए धनराशि दी जाएगी,
परंतु जो सक्षम है वह स्वयं अपना शौचालय बनवा लें जिससे गंदगी से निजात मिलेगी और स्वस्थ जीवन जी सकेंगे। उन्होंने कहा कि गंदगी से तरह-तरह की बीमारियां फैलती है,
जिससे छोटे-छोटे बच्चों की मृत्यु हो जाती है। आपके परिवार के लोग खुले में शौच जाते हैं ,जिससे आपकी इज्जत का सवाल होता है इसलिए सभी लोग सक्षम लोग अपना अपना शौचालय बनवा कर उसका प्रयोग करें।
जिलाधिकारी ने प्राप्त आवेदनों के पश्चात एवं समस्यायें सुनने के बाद संबंधित अधिकारियों को योजनाओं से संतृप्त करने के निर्देश दिए, साथ ही कैंप आयोजित कर योजनाओं से लाभान्वित कराएं।
उन्होंने ग्राम वासियों से अपेक्षा की कि सभी लोग विद्युत कनेक्शन ले लें इसे सुरक्षा भी सुनिश्चित हो जाएगी। 
उक्त अवसर पर जिलाधिकारी ने चहारदीवारी का शिलान्यास किया और कहा कि कहा कि गांव के सभी लोग एक माह के अन्दर अपना शौचालय बनवाकर उसका प्रयोग करने लगेंगे और गांव को खुले में शौच से मुक्त कर देगें तो अपने निधि से गांव के लिये 30 सोलर लाइटे दूगां।        
इस अवसर पर जिला विकास अधिकारी श्री कृष्ण पाण्ंडेय, सी0एम0ओ0 डॉ धीरेंद्र कुमार उपजिलाधिकारी सलेमपुर, परियोजना निदेशक डी0आर0डी0ए0 महेश नारायण पाण्डेय, 
उपायुक्त मनरेगा गजेन्द्र तिवारी,  पुलिस क्षेत्राधिकारी, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी माधव तिवारी,  जिला पूर्ति अधिकारी विनय कुमार सिंह, उप निदेशक कृषि,
यह भी पढ़ें: फैजाबाद जिले का नाम बदलकर अयोध्या होगा,CM योगी का बड़ा एलान
अधिशासी अभियंता विद्युत, लोक निर्माण विभाग, समाज कल्याण अधिकारी दीनानाथ शुक्ल सहित संबंधित विभागों के अधिकारी व बड़ी संख्या में ग्रामीण जन उपस्थित रहे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More