लखनऊ में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट मैच अखिलेश की देन: राजेन्द्र चौधरी

0 3
लखनऊ,। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय सचिव श्री राजेन्द्र चौधरी ने कहा है कि उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ की जनता 24 वर्षों से अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट मुकाबले देखने का इंतजार कर रही थी।
उनका ये सपना समाजवादी सरकार में श्री अखिलेश यादव के मुख्यमंत्रित्वकाल में निर्मित इकाना इंटरनेशनल स्टेडियम में 06 नवम्बर 2018 को साकार होने जा रहा है। सन् 1994 के बाद लखनऊ में 06 नवम्बर 2018 को इंटरनेशनल मैच होने जा रहा है।
यहां हजारों दर्शक भारत बनाम वेस्टइण्डीज का रोमांचक मैच देखेंगे। इस विश्वस्तरीय उपहार के लिए प्रदेश की जनता, खेल प्रेमी और विशेषकर क्रिकेट खिलाड़ी श्री अखिलेश यादव के प्रति कृतज्ञ हैं।
बस भाजपा की सरकार को ही यह स्वीकार करने में परेशानी है क्योंकि उसके पास अपना बताने के लिए कोई उपलब्धि नहीं है। 
01 दिसम्बर 2013 में श्री अखिलेश यादव ने घोषणा की थी कि सन् 2017 की पहली तिमाही में वह लखनऊ को अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम की भेंट देंगे।
यह स्टेडियम 70 एकड़ परिसर में बना है जिस पर 500 करोड़ रूपए का खर्च आया है। समय-समय पर स्वयं जाकर श्री अखिलेश जी स्टेडियम के निर्माण कार्य की प्रगति देखते रहे थे।
शहीद पथ पर बने इस स्टेडियम में अंतर्राष्ट्रीय मैचों के आयोजन के अलावा नए खिलाड़ियों को भी टेनिंग दी जा रही है।
इसमें लान टेनिस, बालीबाल कोर्ट, क्रिकेट अकादमी, इनडोर-आउटडोर खेलों की भी व्यवस्था है। खिलाड़ी लड़के-लड़कियों के लिए हास्टल सुविधा के साथ हेल्थसेंटर भी है। 
उत्तर प्रदेश के विकास की दूरदृष्टि श्री अखिलेश यादव में ही है। उनके मुख्यमंत्रित्वकाल में ही शानदार आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे, मेट्रो रेल, आई.टी.हब, लैपटाप वितरण, समाजवादी पेंशन आदि योजनाएं लागू हुई थी।
एक्सप्रेस-वे की गुणवŸाा का प्रमाण है कि उस पर वायुसेना का मालवाहक हरक्यूलिस सहित युद्धक विमान भी उतर चुके हैं। लखनऊ में जेपी इंटरनेशनल सेंटर भी एक विश्वस्तरीय निर्माण जो लोकनायक जयप्रकाश नारायण को समर्पित हैं।
भाजपा नेता समाजवादी सरकार के समय के कामों के उद्घाटन का उद्घाटन और शिलान्यास का शिलान्यास करने में ही अब तक समय गंवाते रहे हैं। 
समाजवादी सरकार में ही खेल-खिलाड़ियों को प्रोत्साहन और सम्मान देने की परम्परा शुरू हुई थी। खिलाड़ियों को यश भर्ती सम्मान दिया गया। श्री अखिलेश यादव स्वयं एक अच्छे खिलाड़ी है।
इस नाते उन्होंने खिलाड़ियों के सम्मान पर भी ध्यान दिया और उन्हें नकद पुरस्कार और नौकरियां दी। श्री यादव ने साइकिल टैक भी बनवाए ताकि पर्यावरण की रक्षा के साथ लोग स्वस्थ भी रह सकें।
श्री अखिलेश यादव ने अपने मुख्यमंत्रित्वकाल में जहां किसानों के उत्थान और गांवों के विकास कार्याें को प्राथमिकता दी, वही शिक्षा-स्वास्थ्य के क्षेत्र में भी उल्लेखनीय कार्य किए।
साथ ही लाखों नौजवानों को रोजगार उपलब्ध कराया था। 18 लाख छात्र-छात्राओं को लैपटाॅप उपलब्ध कराने जैसे उल्लेखनीय कार्य भी समाजवादी सरकार में हुआ था। 
लखनऊ शहर के निवासी, जो पहले लोहिया पार्क में आक्सीजन लेते थे, अब जनेश्वर मिश्र पार्क में सुबह-शाम स्वास्थ्य लाभ ले रहे हैं। लखनऊ में गोमती नदी पर रिवरफ्रंट जैसे आकर्षक स्पाट भी अखिलेश जी की ही देन है।
भाजपा सरकार ने अपने स्तर से एक भी ऐसा स्थल नहीं बनाया है जिसको याद किया जा सके। भाजपा का काम विकास में अवरोध पैदा करना और समाज में विघटन पैदा करना ही रहता है।
लखनऊ में जब हजारों की भीड़ मैच देखने आएगी तो वह यह भी देखेगी कि श्री अखिलेश यादव जी ने प्रदेश की प्रगति में कितने मील के पत्थर स्थापित किए हैं।
यह भी पढ़ें: बाबा रामदेव ने कहा,दो से ज्यादा बच्चे पैदा करनेवालों को न हो वोटिंग का अधिकार
लोग इस बात के लिए भी कृतज्ञता ज्ञापित करेंगे कि अखिलेश यादव जी की ही बदौलत आज उन्हें लखनऊ में 24 वर्षों बाद अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट मैच का आनन्द लेने का सुअवसर मिला है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More