उत्तर प्रदेश में महोबा के मामना गांव में पति-पत्नी के बीच चल रहे विवाद में बीच-बचाव करने पहुंचे माता-पिता पर छोटे बेटे ने कुल्हाड़ी से हमला कर दिया। सिर में गंभीर चोट आने के चलते पिता की मेडिकल कॉलेज झांसी में मौत हो गई। मां का एक कान कट जाने से उसका इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है। मृतक के बड़े बेटे की तहरीर पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। घटना से गांव में सनसनी का माहौल है।
ग्राम मामना निवासी गुड्डा अहिरवार (70) के तीन पुत्र देवीदीन, प्रकाश व खेमचंद्र है। तीनों एक ही मकान में अलग-अलग रहकर मेहनत-मजदूरी का काम करता थे। बुधवार की देर शाम गुड्डा अहिरवार का सबसे छोटा पुत्र खेमचंद्र अपनी पत्नी हरबाई के साथ झगड़ा कर रहा था। बहू से मारपीट किए जाने पर शोर-शराबा सुनकर पिता गुड्डा अहिरवार व मां प्यारीबाई (68) बीच-बचाव करने पहुंच गए। झगड़ा न करने की बात कहने से नाराज खेमचंद्र ने माता-पिता पर कुल्हाड़ी से हमला कर दिया। धारदार कुल्हाड़ी लगने से पिता का सिर फट गया जबकि मां का एक कान कट गया।
गंभीर हालत में परिजनों द्वारा माता-पिता को इलाज के लिए जिला अस्पताल लाया गया। जहां गुड्डा की हालत नाजुक होने पर डॉक्टरों ने मेडिकल कॉलेज झांसी रेफर कर दिया। जहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। मृतक के दूसरे नंबर के बेटे प्रकाश ने शहर कोतवाली पहुंच पूरी घटना बताई। तहरीर के आधार पर पुलिस ने आरोपी खेमचंद्र के खिलाफ गैर इरादतन हत्या समेत विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस ने शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। घटना से परिजनों में कोहराम मचा है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.