ऑपरेशन के लिए उपस्थित महिला हितग्राहियों की अनदेखी कर रहा है चिकित्सा विभाग विजयपुर

108

श्योपुर(राष्ट्रीय जजमेंट)

जिले की तहसील विजयपुर में नसबन्दी ऑपरेशन कैम्प की , चिकित्सा विभाग विजयपुर द्वारा की जा रही है अनदेखी । महिला हितग्राहियों को ऑपरेशन कैम्प के लिए पिछले एक सप्ताह से अलग अलग समय व दिन देकर घुमाया जा रहा है।

आंगनबाड़ी की कार्यकर्ता सीमा शर्मा व रजनी शर्मा ने बताया कि लगातार विजयपुर चिकित्सा विभाग के द्वारा विगत एक सप्ताह पूर्व से अलग अलग दिन व अलग अलग समय देकर हॉस्पिटल से वापस लौटा दिया जाता है। आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का कहना है लगभग 25 से 30 किलोमीटर दूर दराज से महिला हितग्राहियों को एकत्रित कर पहले विजयपुर सामुदायिक केंद्र में लाया जाता है और विजयपुर चिकित्सा स्टाफ के द्वारा उन महिला हितग्राहियों को बार बार हॉस्पिटल से वापस पहुंचा दिया जाता है।

इस बार सभी हितग्राही 5 वी बार ऑपरेशन के लिए एकत्रित होकर विजयपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में आये हैं परंतु आज फिर उन्हें वापस लौटने के लिए बोल दिया गया ।
आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का कहना है कि सभी लोग दूर दराज से आते हैं और मजदूर वर्ग से आते हैं उनके पास इतना समय और धन नही है की बार बार वे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र विजयपुर में लाया जाए।

वहीं जब महिला हितग्राहियों की समस्या को लेकर डॉक्टर बसन्त शाक्य जो कि आज बीएमओ पचौरिया की अनुपस्थिति में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का नेतृत्व कर रहे थे उन्होंने इस मामले को गम्भीरता से न लेकर उनकी समस्या को “बहुत बड़ा इशू न होना ” बोला गया। साथ मे यह भी कहा हमारे हाथ मे कुछ नही है ऊपर वाले जाने ।

जब यह सारी बात प्रेस के कैमरे के सामने आने लगी तो चिकित्सा विभाग की अनिमितताओं की सच्चाई की पोल खुलने लगी ना तो महिला हितग्राहियों को बैठने की व्यवस्था की गई न कोई अन्य सुविधा जो हितग्राहियों को दी जाती है ।

तब सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र विजयपुर के एमटीएस पद पर पदस्थ शाइद कुर्रेशी ने महिला हितग्राहियों के सामने हाथ जोड़कर स्वास्थ्य विभाग की अनियमितताओ के लिए माफी मांगी एवम महिला हितग्राहियों को कल फिर से आने को कहा।

वहीं इस स्वास्थ केंद्र की अनियमितता के बारे में एसडीएम विजयपुर से फोन पर बात हुई तो विनोद सिंह ने कहा “कि मैं बीएमओ विजयपुर से बात करता हूं फिर बताता हूं।”
लेकिन वे संतुष्टि भरा कोई भी जबाब नही दे पाए।

जिला संवाददाता श्योपुर
नितेश उपाध्याय

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More