Unable to resolve CM HELPLINE complaints, Maihar District / District Panchayat Satna CEO
मैहर जनपद के ग्राम पंचायत भदनपुर दक्षिण पट्टी की शिकायत कई महीनों से CM HELPLINE में लंबित है और उसका निराकरण मैहर जनपद सीईओ जिला पंचायत सीईओ के द्वारा नही करवाया जा रहा है शिकायत उच्च लेवल में प्रेषित हो चुकी है जो सतना जिले में पंचायती राज्य विभाग के लिए बहुत बड़ा प्रश्न चिन्ह है क्या CM HELPLINE की लंबित शिकायतो पर समीझा बैठक में जिला कलेक्टर सतना पंचायती राज्य विभाग सतना को CM HELPLINE की शिकायतों का निराकरण के लिए निर्देशित नही करते? यह सवाल आम जनता के बीच काफी चर्चित है|
मैहर जनपद अंतर्गत ग्राम भदनपुर दक्षिण पट्टी की तीन शिकायते CM HELPLINE में लंबित है जिसमे दो शिकायते कई दिनों से जिला सीईओ ऋजु वाफना के पास है और एक शिकायत सतना कलेक्टर के लेवल से ऊपर मुख्य संचालक कमिश्नरी रीवा के पास है अब सवाल यह है कि भदनपुर दक्षिण पट्टी पंचायत में शिकायतकर्त्ता ने 5वर्षो के समस्त निर्माण कार्य भवन, सड़क,शौचालयों के निर्माण में जांच की मांग की है वही पूर्व दिनों सरपंच सचिव के आरोपो के आधार पर 5वर्ष के समस्त विलो की जांच कि मांग की है लेकिन पंचायत में जनपद सीईओ जिला सीईओ द्वारा जांच नही करवाई गई|
जिससे शिकायत आज ऐल 4अधिकारी के पास है वही एक शिकायत के निराकरण में मिला कि सरपंच के ऊपर कार्यवाही की जा चुकी है जबकि सरपंच सुमन सिंह गौंड वर्षो से अपनी ही पंचायत में भ्रष्टाचार का आरोप लगा रही थी सरपंच का आरोप था कि उन्हें भ्रमित कर राशि निकाल ली जाती थी और जब कार्य की जानकारी सरपंच लेती तो सचिव द्वारा विवादित माहौल बना दिया जाता था|
सरपंच जनपद सीईओ/जिला सीईओ को कई दफा पत्र लिख समस्या से अवगत करा चुकी थी उसके बाद भी जनपद मैहर जिला पंचायत सतना द्वारा कोई निराकरण नही दिया गया यहाँ तक महीने से CM HELPLINE की शिकायतें भी लंबित है सरपंच के ऊपर कार्यवाही के बाद कोरम पूरा करने वालो से एक सवाल जब सरपंच खुद वर्षो से भ्रमित कर पैसा ऐंठने का आरोप सचिव पर लगा रही थी|
उसके बाद सचिव के ऊपर संतोष जनक कार्यवाही नही हुई और न ही पंचायत के समस्त कार्यो की जांच में बताया गया कि सब कार्य नियमो के अनुसार है कोई हेरा फेरी नही हुई शिकायत निराकरण में सचिव को लेकर जिम्मेदारों ने ऐसी कोई बात नही कही शिकायत में जांच करने वाले अधिकारी भी संदेह के घेरे में है उनके द्वारा मात्र अभी तक बचाव की जांच की गई|
जबकि पंचायतो में दर्जनों कार्य ऐसे है जहाँ आसानी से भ्रष्टाचार होने के पर्याप्त साक्ष्य जुटाये जा सकते है लेकिन जाँचकर्ता अधिकारी ने सचिव बचाव के लिए भरपूर प्रयास किया है वर्षो से भ्रष्टाचार की शिकायत करने वाली आदिवासी महिला सरपंच का अविश्वास करा मैहर जनपद के अधिकारी ईमानदारी की बात कर रहे है जबकि अविश्वास में सरपंच का विरोध करने वाले पंच पंचायत के विकास कार्य मे बाधा बने सरपंच सचिव दोनों का विरोध करते है|
पूर्व दिनों सरपंच की शिकायत में भी पंचों ने अपना पंचनामा शिकायत में दिया था लेकिन उस शिकायत पर सचिव के ऊपर कोई कार्यवाही नही हुई थी, अब सवाल जिले की तेज तर्राट अधिकारी के रूप में विख्यात जिला सीईओ ऋजु वाफना जी से है आज तक कोई कार्यवाही क्यो नही हो पा रही है क्या CM HELPLINE की शिकायतें झूठी है मामले का निराकरण संतोषजनक क्यो नही दिया जा रहा है उनके कार्यक्षेत्र में CM HELPLINE की लंबित शिकायते मजाक सा बन गई है|
पिछले दिनों सरपंच ने जिला जनपद सीईओ सीईओ को पत्र लिख जनपद जिला की निगरानी में पंचायत के विकास कार्य को प्रगति देने की मांग की थी लेकिन लगता है उस पर भी जिला/जनपद ने आज तक कोई अमल नही किया मैहर जनपद की अधिकतर ग्राम पंचायतों में भ्रष्टाचार के मामले सामने आ रहे है और उन पर क्या जांच कार्यवाही हो रही है यह बात भी सामने है निश्चित ही ऐसा रवैया रहा तो मैहर की सम्पूर्ण पंचायते भ्रष्टाचार में लिप्त हो जाएगी और लोग अपने अधिकारों से वंचित रहेंगे जिसकी जवावदेही जनपद सीईओ और जिला सीईओ की होंगी|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.