भाजपा विधायक द्वारा सचिवालय कर्मचारी के साथ मारपीट
भाजपा विधायक महेंद्र सिंह यादव
सचिवालय का पूरा गेट नहीं खोलने से नाराज सीतापुर के भाजपा विधायक महेंद्र सिंह ने बुधवार को सचिवालय के सुरक्षा कर्मी की पिटाई कर दी।
सुरक्षा कर्मी ने अपने उच्च अधिकारियों से विधायक के खिलाफ शिकायत की है। बुधवार दोपहर करीब सवा दो बजे सचिवालय के गेट नंबर 9 से एक एंबुलेंस प्रवेश कर रही थी।वहां तैनात सुरक्षा कर्मी सुरेंद्र सिंह राठौर एंबुलेंस में बैठे चालक और अन्य लोगों से पूछताछ कर रहे थे।
इसी बीच विधायक महेंद्र सिंह की कार एंबुलेंस के पीछे आकर खड़ी हो गई। विधायक ने सुरक्षा कर्मी से गेट का दूसरा पल्ला भी खोलने को कहा। इस पर सुरेंद्र ने कहा कि दूसरे पल्ला का कुंडा फंसा है, वह नहीं खुल सकता। करीब तीन-चार मिनट इंतजार के बाद विधायक ने अपनी गाड़ी से उतरकर सुरक्षा कर्मी सुरेंद्र सिंह की पिटाई कर दी।
वहां मौजूद दूसरे सुरक्षा कर्मियों ने बीच-बचाव किया। सुरेंद्र सिंह भूतपूर्व सैनिक कोटे से सचिवालय में सुरक्षा कर्मी पद पर तैनात हैं।
वहीं भाजपा विधायक महेंद्र सिंह का कहना है के सुरक्षा कर्मचारी उनसे बदसलूकी कर रहा था इसलिए
सचिवालय  कर्मचारी को,  डांटा था। मारपीट नहीं की।  जबकि सुरक्षा कर्मचारी का कहना है कि सीसीटीवी फुटेज मैं साफ दिखाया गया है के विधायक जी का गनर व विधायक जी स्वयं उनके साथ मारपीट कर रहे है । भाजपा विधायक महेंद्र सिंह यादव सीतापुर की बिसवां विधानसभा से  निर्वाचित हुए हैं ।
महेंद्र सिंह यादव द्वारा 2019 में  एक चीनी मिल के सहकारी समित के सचिव रामप्रताप व सदस्यों को अपने सहयोगियों द्वारा मारपीट करने का आरोप है जिसमें विधायक पर f.i.r. लिखा गया था विधायक जी अपनी गुंडई के लिए पहले भी मशहूर रहे हैं ।
शायद विधायक जी को सत्ता का नशा सर पर चढ़कर बोल रहा है तभी तो इतने सारे कैमरे लगे होने के बावजूद इस तरह की बदतमीजी छोटे कर्मचारियों से करके अपना रुतबा गांठ ना चाह रहे हो – प्रमुख सचिव सचिवालय प्रशासन की ओर से सुरक्षा कर्मचारियों को साफ निर्देश हैं
कि वह बिना पास चेक किए किसी भी व्यक्ति को अंदर ना आने दे अब स्वयं विधायक जी इस तरह की बदतमीजी करेंगे तो सुरक्षाकर्मियों का मनोबल टूट जाएगा
कर्मचारियों का दबी जुबान से कहना है कि इस प्रकरण में उस बेचारे छोटे कर्मचारी को दबा दिया जाएगा और विधायक जी चूंकि सत्ता धारी पार्टी से हैं तो उनको कुछ नहीं कहा जाएगा हो सकता है कर्मचारी को निलंबित भी कर दिया जाए कि उसने माननीय विधायक जी द्वारा पीटे जाने का विरोध क्यों किया ?

संपादक की कलम से -✍️

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.