Kite such a big punishment for robbing the door, brutally killing three innocent people
पानीपत के गांव बिंझौल में पतंग की डोर लेने ब्लीच हाउस गए तीन मासूमों की मालिक ने हत्या कर दी। तीनों के शवों को कपड़े में लपेटकर रजवाहे में डाल दिया। परिजनों की शिकयत पर मॉडल टाउन थाना पुलिस ने ब्लीच हाउस के मालिक समेत 12 पर हत्या का केस दर्जकर धरपकड़ शुरू कर दी।
पुलिस को दी शिकायत में जयकुमार पुत्र चंद्रभान निवासी बिंझौल ने बताया कि मंगलवार शाम को चार बजे बेटा लक्ष्य (11) दोस्त वंश (10) पुत्र अशोक, अरुण (12) पुत्र बिजेंद्र समेत अन्य तीन अन्य के साथ गांव के पास खुले ब्लीच हाउस में पतंग की डोर लेने गए थे। जहां ब्लीच हाउस मालिक हरिओम और मैनेजर पवन बंसल ने उन्हें पकड़ लिया।
उन्होंने सभी बच्चों के साथ मारपीट की। इस दौरान तीन दोस्त तो भागने में कामयाब हो गए, जिनका पीछा भी किया गया। तीनों ने घर पहुंचकर पूरी बात बताई। जिसके बाद परिजन इकट्ठा होकर ब्लीच हाउस पहुंचे तो मालिक यही कहता रहा कि बच्चे वहां नहीं आए। परिजनों का आरोप है कि रात करीब 12 बजे ब्लीच हाउस में मौजूद एक महिला ने उन्हें धमकाया और कहा कि बच्चों को मारकर रजवाहे में फेंक दिया है।
वह रजवाहे के पास गए तो पानी का बहाव तेज था। उन्होंने एक्सइएन को बोलकर पानी रुकवाया और करीब 60 से अधिक लोगों ने रजवाहे में उतरकर मासूमों की तलाश की। सुबह चार बजे तीनों शव रजवाहे में मिले। परिजनों का आरोप है कि ब्लीच हाउस के मालिक ने बच्चों की हत्या कर कपड़े में लपेटकर शव रजवाहे में फेंके हैं।
परिजनों ने किया गोहाना रोड जाम, पुलिस के खिलाफ भी नारेबाजी
परिजनों ने सुबह सात बजे के आसपास गोहाना रोड पर तीनों मासूमों के शव को रखकर प्रदर्शन किया और आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए मांग की। परिजनों का पुलिस पर भी आरोप था कि रात को गुमशुदगी की रिपोर्ट देने के बावजूद भी पुलिस ने उनकी मदद नहीं की। देर रात उन्होंने खुद ही मासूमों के शव रजवाहे से निकाले। करीब 20 मिनट बाद डीएसपी संदीप मौके पर पहुंचे। उन्होंने आरोपियों की गिरफ्तारी का आश्वासन दिया, जिसके बाद जाम खुलाया।
परिजनों के बयान पर आरोपी ब्लीच हाउस के मालिक, मैनेजर, जमीन की मालकिन और उसके बेटे समेत 12 के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस आरोपियों धरपकड़ में जुटी हुई है।- संदीप कुमार, डीएसपी, मॉडल टाउन एरिया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.