BJP general secretary
BJP general secretary
मुंबई। केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) ने 57 करोड़ रुपये की बैंक धोखाधड़ी के मामले में मुंबई के पांच ठिकानों पर
छापेमारी की है. सीबीआई ने जिन ठिकानों पर छापा मारा है, उनमें से एक भारतीय जनता पार्टी के महासचिव
मोहित कंबोज का आवास भी है. सीबीआई ने कहा, “अभियुक्तों के आवासीय और आधिकारिक परिसरों में
तलाशी ली गई है, जिसमें एक प्राइवेट कंपनी भी शामिल है. छापेमारी में संपत्ति, लोन, विभिन्न बैंक खाते और
लॉकर की चाबियों समेत संदिग्ध दस्तावेजों की बरामदगी हुई है.”
सीबीआई ने बैंक ऑफ इंडिया की ओर से दी गई शिकायत के आधार पर एफआईआर दर्ज की है. बैंक ने
जिनके खिलाफ शिकायत की थी, उनमें एवियन ओवरसीज प्राइवेट लिमिटेड नाम की कंपनी है, जिसे अब
मेसर्स बाग्ला ओवरसीज प्राइवेट लिमिटेड के नाम से जाना जाता है. इस शिकायत में कंपनी के प्रबंध निदेशक
भाजपा नेता मोहित कंबोज, केबीजे होटल्स गोवा प्राइवेट लिमिटेड, जितेंद्र गुलशन कपूर, सिद्धांत बागला,
इरतेश मिश्रा और अज्ञात अधिकारियों के नाम हैं. इन सभी पर बैंक ऑफ इंडिया को 57.26 करोड़ रुपये का
चूना लगाने का आरोप है.
जांच एजेंसी के अनुसार, वर्ष 2013 से 2018 के दौरान, एवियन ओवरसीज प्राइवेट लिमिटेड, इसके प्रबंध निदेशक मोहित कंबोज और अन्य ने अज्ञात अधिकारियों के साथ मिलकर कथित रूप से साजिश रची और बैंक ऑफ इंडिया को चूना लगाया. कंपनी को विदेशी बिल बातचीत की सीमा और निर्यात पैकेजिंग क्रेडिट सीमा को मंजूरी दी गई थी.
सीबीआई ने कहा, “इस साजिश के तहत इस निजी कंपनी को बैंक से 60 करोड़ रुपये की मंजूरी मिली. आरोप है कि मंजूरी का लाभ उठाते हुए कंपनी ने मंजूर धनराशि निकाल ली और दावे के समर्थन में जाली और मनगढ़ंत दस्तावेज पेश किए. इस साजिश की वजह से बैंक ऑफ इंडिया को 57.26 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ.” मोहित कंबोज भाजपा की मुंबई इकाई के महासचिव हैं, जिनके खिलाफ सीबीआई की आर्थिक अपराध शाखा जांच कर रही है. कंबोज 2016 से 19 के बीच भारतीय जनता पार्टी की मुंबई युवा शाखा के अध्यक्ष भी थे. अगस्त 2019 में उन्हें मुंबई भाजपा का महासचिव नियुक्त किया गया था.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.