मां-बेटी की हत्या कर बोरों में शव ले जा रहे थे आरोपी, पड़ोसियों ने शोर मचाया तो छोड़कर भागे

0 13
शामली. झिंझाना इलाके के बिडोली गांव में बुधवार रात मां-बेटी की गला दबाकर हत्या कर दी गई। हत्यारोपी बोरों में शवों को रखकर ले जा रहे थे, तभी पड़ोसियों की नींद खुल गई।
शोर मचाया तो आरोपी बोरों को छोड़कर मौके से फरार हो गए। बोरों को देखा गया तो ग्रामीण दंग रह गए। पुलिस ने केस दर्ज कर मौके से साक्ष्य जुटाए हैं।
थाना झिंझाना क्षेत्र के हरिनगर बिडोली निवासी 40 वर्षीय कमला देवी बेटी सोनू के साथ घर में रहती थी। सोनू इंटरमीडिएट की छात्रा और एनसीसी कैडेट थी। सोनू के पिता की चार साल पहले मौत हो चुकी है। जीविकोपार्जन के लिए कमला देवी घर में आटा चक्की का संचालन करती थीं। बुधवार रात करीब दो बजे हमलावर कमला देवी के घर में घुस आए और मां-बेटी की गला दबाकर हत्या कर दी। इसके बाद हत्यारे दोनों शवों को बोरी में रखकर ले जाने लगे। लेकिन, आहट पाकर पड़ोसियों की नींद खुल गई। पड़ोसियों ने समझा कि चोर आटा की बोरी ले जा रहे हैं। पड़ोसी ने शोर मचाया तो आरोपी बोरी छोड़कर मौके से फरार हो गए। ग्रामीणों ने मौके पर आकर देखा तो बोरों में मां-बेटी की लाश पड़ी थी।
एसपी ने घटनास्थल का लिया जायजा : ग्रामीणों ने पुलिस को सूचना दी। एसपी अजय कुमार समेत कई थानों का पुलिस बल गांव पहुंचा। एसपी ने बताया कि प्राथमिक जांच में पता चला है कि मां-बेटी की हत्या गला दबाकर की गई है। शवों को पोस्टमाॅर्टम के लिए भेज दिया है। अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज किया गया है।

Leave A Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More