सज्जाद लोन के पिता घाटी में आतंकवाद लाए: फारूक अब्दुल्ला

0 13
श्रीनगर. फारूक अब्दुल्ला ने सज्जाद के पिता अब्दुल गनी लोन को घाटी में आतंकवाद लाने का जिम्मेदार भी बताया। सज्जाद ने हाल ही में जम्मू कश्मीर में वंशवादी राजनीति का विरोध करते हुए कहा था कि उनकी पार्टी इसके खिलाफ है। उनके इसी बयान पर फारूक ने बारामूला में पत्रकारों से बात की।
जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला ने पीपुल्स कॉन्फ्रेंस पार्टी के नेता सज्जाद लोन को वंशवादी राजनीति की उपज कहा।
1984 के एक वाकये का जिक्र करते हुए फारूक ने बताया- “जब 1984 में कश्मीर के राज्यपाल जगमोहन ने मेरी सरकार को बर्खास्त कर दिया था, तब उनके (सज्जाद) पिता ने मुझसे कहा था कि वे बंदूक लेने पाकिस्तान जा रहे हैं। मैंने उनसे हाथ जोड़कर कहा था कि कश्मीर में बंदूक मत लाइए।
इसकी वजह से हमारी माताओं और बहनों की सुरक्षा ही खतरे में पड़ जाएगी, युवा मारे जाएंगे और गांव-शहर सब तबाह हो जाएंगे, लेकिन वो बंदूक लाए। लौटने के बाद उन्होंने मुझसे माफी मांगते हुए कहा था कि कश्मीर में बंदूक लाकर बड़ी गलती कर दी। उन्हें बंदूक नहीं लानी चाहिए थीं। अब उन्हें इसका जवाब देना चाहिए।”
करतारपुर कॉरिडोर खुलने से कम होंगी दूरियां
अब्दुल्ला ने भारत-पाकिस्तान के बीच बनने वाले करतारपुर कॉरिडोर को दोनों देशों के रिश्ते के लिए अहम बताया। उन्होंने पाक अधिकृत कश्मीर और एलओसी पर भी कुछ नए मार्ग खोलने की वकालत की।
यह भी पढ़ें: 2002 के गुजरात दंगों मे मोदी को क्लीनचिट देने के खिलाफ, याचिका पर सुनवाई जनवरी के तीसरे हफ्ते तक टली
फारूक ने कहा, “इस तरह कुछ और सड़कें खुलने से दोनों देशों के लोग साथ आ सकेंगे और एक-दूसरे को अलग महसूस नहीं करेंगे।”

Leave A Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More