दिल्ली सचिवालय में CM अरविंद केजरीवाल पर मिर्ची पाउडर से हमला, गिरफ्तार

0 13
सचिवालय के भीतर सीएम पर मिर्ची पाउडर फेंका गया। कुछ रिपोर्ट्स के मुताबिक, हमले के दौरान मिर्ची पाउडर उनकी आंख में भी गया, जिसके बाद उन्हें डॉक्टरों के पास ले जाया गया।
घटना के सीसीटीवी फुटेज के मुताबिक, उसने सीएम को चिट्ठी पकड़ाने के बाद उनके पैर छुए। फिर अचानक से उनका चश्मा खींचने की कोशिश की थी। इसी धक्का-मुक्की में सीएम का चश्मा टूट गया।
देश की राजधानी नई दिल्ली में मंगलवार (20 नवंबर) को मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी (आप) के सर्वेसर्वा अरविंद केजरीवाल की सुरक्षा में बड़ी चूक हो गई।
वारदात के बाद हमलावर वहां से भागने की फिराक में था। पर सचिवालय में मौजूद सुरक्षाकर्मियों ने उसे धर दबोचा। उसकी शिनाख्त 40 वर्षीय अनिल कुमार शर्मा के रूप में हुई है।
वह दिल्ली के नारायणा इलाके का रहने वाला है। पूछताछ में उसने बताया कि वह सीएम को जान से मारने आया था। उसका मकसद तो उन पर गोली चलाना था। वह इस बाबत फेसबुक पोस्ट भी कर चुका था।

यह घटना दोपहर दो बजकर 10 मिनट के आसपास की है। तीसरे माले पर सीएम तब लंच के लिए जा रहे थे, जबकि शर्मा विजिटर्स एरिया में इंतजार कर रहा था।
रिपोर्ट्स के मुताबिक, वह माचिस की डिबिया में मिर्ची पाउडर छिपा कर लाया था। अचानक उसने सीएम पर वह फेंका था, जिसके बाद वहां अफरा-तफरी मच गई थी। घटना के कुछ देर बाद उसे इंद्रप्रस्थ थाने ले जाया गया।
आप नेता राघव चड्ढा ने सीएम की सुरक्षा में चूक पर दिल्ली पुलिस को लापरवाह बताया। कहा कि राज्य की पुलिस सीएम तक को सुरक्षा नहीं मुहैया करा पा रही है। सीएम पर ताजा हमले को लेकर पार्टी की ओर से प्रेस कॉन्फ्रेंस भी की गई।
ग्रेटर कैलाश से विधायक सौरभ भारद्वाज और पार्टी प्रवक्ता राघव चड्ढा ने इसमें बताया, “मुख्यमंत्री कार्यालय, हाई सिक्योरिटी जोन है। उनके कार्यालय के गेट के बाहर ही एक शख्स ने मिर्ची पाउडर से हमला किया। यह वाकई में बेहद हैरान करने वाली घटना है।”
उन्होंने आगे कहा- दशहरे पर भी सीएम के घर में एक आदमी पहुंच गया था। उन पर तब हमले की कोशिश भी हुई थी। वहीं, चार नवंबर को सिग्नेचर ब्रिज पर भी बीजेपी सांसद मनोज तिवारी द्वारा सुनियोजित भीड़ के जरिए हमला कराने की कोशिश भी की गई।
वहीं, भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) बोली कि यह हमला केजरीवाल ने खुद कराया है, जबकि शिरोमणि अकाली दल के वरिष्ठ नेता और विधायक मनजिंदर सिंह सिरसा ने एक टीवी चैनल से कहा, “सचिवालय में बगैर पास के कोई नहीं जा सकता।
यह भी पढ़ें: अखिलेश यादव ने खुद खोला सपा-कांग्रेस गठबंधन का राज
ऐसे में अगर पास जारी हुआ है, तो यह बात कुछ मंत्रियों या विधायकों की जानकारी में होगी।” याद दिला दें कि केजरीवाल पर इससे पहले एक कार्यक्रम में महिला ने स्याही फेंकी थी, जबकि एक बार रैली में ऑटो वाले ने उन्हें तमाचा मार दिया था।

Leave A Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More