VVIP सुरक्षा में लगी एसपीजी को चाहिए हेलिकॉप्‍टर्स, हिचक रही मोदी सरकार

0 6
स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप (एसपीजी) वीवीआईपी लोगों की सुरक्षा के लिए एक बार फिर हेलिकॉप्टर खरीदने का प्रस्ताव लेकर सरकार के पास पहुंची है। लेकिन सरकार इसमें रूचि नहीं दिखा रही है। सरकार को वीवीआईपी अगस्टा वेस्टलैंड हेलिकॉप्टर खरीद से जुड़े विवाद का डर सता रहा है।
हिन्दुस्तान टाईम्स की रिपोर्ट में ऐसी जानकारी सामने आयी है। 2014 लोकसभा चुनाव से पहले वीवीआईपी हेलीकॉप्टर खरीद मामले में घूस लेने का आरोप लगने के बाद मनमोहन सिंह की यूपीए सरकार बैकफुट पर चली गई थी।
डैमेज कंट्रोल के लिए तत्कालिन सरकार ने आखिरकार इटालियन फर्म फिनमेक्निकिका से 12एडब्लू 101 अगस्टा वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर अधिग्रहण को रद कर दिया था। गड़बड़ी करने और घूस लेने के आरोप में एक वायु सेना के एक पूर्व चीफ को गिरफ्तार किया गया था।
आजाद भारत के इतिहास में यह पहला मामला था जब सेना के ऐसे किसी उच्च रैंक वाले अधिकारी को गिरफ्तार किया गया था।
बता दें कि एसपीजी प्रधानमंत्री, पूर्व प्रधानमंत्री और उनके परिजनों सहित अतिविशिष्ट लोगों की सुरक्षा में तैनात रहती हैं।
सुरक्षा मंत्रालय और भारतीय वायु सेना को यह उम्मीद है कि प्रधानमंत्री और सरकार के अन्य वरिष्ठ सदस्य यह तय करेंगे कि किस तरह के हेलिकॉप्टर की खरीद होनी चाहिए।
 नाम न छापने की शर्त पर एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी ने बताया कि, “इस मामले में सभी लोग यह चाह रहे हैं कि अगला व्यक्ति कदम उठाए।”
एक अन्य वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, “हमने एसपीजी से कहा है कि वे यह बताएं कि उन्हें किस तरह का हेलिकॉप्टर चाहिए। इस मामले को लेकर कम से कम एक बार एसपीजी और भारतीय वायुसेना के बीच बैठक हुई है।”
एडब्ल्यू 101 हेलीकॉप्टरों की खरीद में भारतीय वायु सेना ने यह बताया था कि हेलिकॉप्टर में कौन-कौन सी खूबी होनी चाहिए। फिनमेक्निकिका के मामले में पूर्व एयरफोर्स चीफ पर यह आरोप लगा था कि
उन्होंने विशेष कंपनी को फायदा पहुंचाने के लिए एयरक्राफ्ट की खूबियों में बदलाव कर दिया था। इसी आरोप में उन्हें गिरफ्तार किया गया था।
हालांकि, इस बार खरीद को लेकर अभी तक एयरफोर्स द्वारा किसी तरह का जवाब नहीं दिया गया है।
वर्तमान में वीवीआईपी लोगों को मिलिट्री के हेलिकॉप्टर रूस निर्मित एमआई 17 वी5एस और एमआई 17एस पर ले जाया जाता है।
एमआई 8 हेलिकॉप्टर जिनका पहले उपयोग किया जाता था, अब वे चलन से बाहर हो चुके हैं।  एमआई 17 वी5एस और एमआई 17एस को विशेष तौर पर वरिष्ठ सरकारी व्यक्तियों के लिए तैयार किया गया है,
यह भी पढ़ें: CBI विवाद: SC पहुंचे आलोक वर्मा, केंद्र के फैसले को दी चुनौती
लेकिन इसमें कई ऐसे फीचर नहीं है, जो एसपीजी चाहती है। ऐसे में एसपीजी चाहती है कि वीवीआईपी लोगों की सुरक्षा के लिए नया हेलिकॉप्टर खरीदा जाए, जिसमें लेटेस्ट फीचर्स हों।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More