पुलिस ने चंद्रशेखर आजाद को होटल में किया नजरबंद

0 12
मुंबई. पुणे के भीमा-कोरेगांव में भड़की जातीय हिंसा की बरसी से ठीक पहले शुक्रवार रात को मुंबई पहुंचे भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर आजाद को पुलिस ने हिरासत में ले लिया।
फिलहाल उन्हें मलाड के होटल मनिला में नजरबंद रखा गया है। शनिवार को चंद्रशेखर मुंबई के आजाद मैदान में एक रैली को संबोधित करने वाले थे। फिलहाल यह रैली रद्द कर दी गई है। इसके बाद उन्हें पुणे जाना था।
चंद्रशेखर आजाद ने अपने ट्वीट कर खुद को हिरासत में लिए जाने की जानकारी दी। उन्होंने कहा, “अगर महाराष्ट्र की फडणवीस सरकार यह सोचती है कि पुलिस को देखकर मैं डर जाऊंगा तो
एक बार मेरा इतिहास पढ़ लीजिए, 16 महीने जेल में रहकर आया हूं। तब नही डरा तो अब क्या खाक डरूंगा। कान खोलकर सुन लो न डरूंगा न बिकूंगा न रुकूंगा। जय भीम, जय भीम आर्मी।”
एक अन्य ट्वीट में चंद्रशेखर ने कहा, “महाराष्ट्र, राष्ट्रपिता फुले, शाहू जी महाराज की भूमि है। बाबा साहेब ने इसी भूमि से हमे अपने अधिकारों के लिए लड़ना सिखाया, आज पहली बार इस भूमि के दर्शन को आया तो
चैत्य भूमि के गेट से मुझे गिरफ्तार कर लिया गया। क्या महाराष्ट्र का बहुजन समाज इस अपमान को बर्दाश्त करेगा?”
वीडियो जारी कर दिया संदेश : शुक्रवार रात को वीडियो अपलोड कर नजरबंदी की जानकारी देते हुए चंद्रशेखर आजाद ने कहा,”अभी मोदी की पुलिस ने जो मुझे होटल में कैद किया हुआ था बहुजन समाज के दबाव की वजह से पुलिस मुझे कैद कर के चैत्य भूमि लेकर जा रही है,
क्या देश मे लोकतंत्र बचा है? लगता है महाराष्ट्र में संविधान को खत्म कर के बीजेपी ने मनुस्मृति लागू कर दी है लेकिन मैं बलिदान को तैयार हूं। जय भीम।”
आवाज उठाने वाले संगठनों को कहा धन्यवाद :उन्हें अगले ट्वीट में कहा,”अभी फोन ऑन करने दिया है कई पुलिस स्टेशन में घुमाते हुए दोबारा होटल ले आएं है फिर से होटल में कैद कर लिया है
सभी संघठनो का धन्यवाद जिन्होंने मेरी गिरफ्तारी पर आवाज उठाई जिससे सरकार डर गई ओर उन्हें एक घण्टे में ही मुझे पुलिस स्टेशन से दोबारा होटल लाना पड़ा।”

Leave A Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More