Sushant case - Big reveal, CCTV cameras were not bad on June 13 and 14
सुशांत सिंह राजपूत केस की अब मुंबई पुलिस के साथ ही साथ बिहार पुलिस भी जांच कर रही है। बिहार पुलिस के मुंबई पहुंचने के साथ ही इस केस में कई अलग- अलग एंगल और खुलासे सामने आने लगे हैं। इसके बाद से ही मुंबई पुलिस सवालों के घेरे में आ गई है। इस बीच इस केस से एक और बड़ा पर्दा उठा है। जिससे एक बार फिर मुंबई पुलिस की जांच शक के घेरे में आ गई है।
दरअसल मुंबई पुलिस की ओर से शुरुआत में ही ये कह दिया गया था कि सुशांत की कथित आत्महत्या के दिन वहां के सीसीटीवी खराब थे। लेकिन अब एक न्यूज चैनल ने इस बात का दावा किया है कि सीसीटीवी कंपनी के मालिक का कहना है कि सीसीटीवी खराब नहीं थे और इस मामले में मुंबई पुलिस कुछ छिपा रही है।
न्यूज चैनल का दावा है कि सीसीटीवी कंपनी के मालिक के मुताबिक 13 जून और 14 जून को सीसीटीवी खराब नहीं था और वो सही काम कर रहा था। याद दिला दें कि 14 जून को ही सुशांत ने इस दुनिया को अलविदा कहा था। ऐसे में अब सवाल ये उठता है कि क्या उस सीसीटीवी फुटेज की क्लिप भी मुंबई पुलिस के पास है या फिर उसे भी दिशा सालियान की फाइल की तरह ही डिलीट कर दिया गया है।
वैसे सुशांत के केस में कई और ऐसी बातें भी हैं जो अभी तक एक राज बनी हुई हैं। सुशांत सिंह राजपूत के शव को फंदे से नीचे उतारने को लेकर भी अलग- अलग बातें अभी तक सामने आई हैं। नीरज (हेल्पर) का कहना है कि सुशांत का शव सिद्धार्थ ने उतारा है। तो वहीं एंबुलेंस के ड्राइवर अक्षय का कहना है कि शव को उन्होंने उतारा है। इसके अलावा एंबुलेंस के मालिक लक्ष्मण का कहना है कि शव को पुलिस ने उतारा है।
गौरतलब है कि सुशांत सिंह राजपूत के केस शुरुआत से मुंबई पुलिस जांच कर रही है और तब इस मामले को भाई भतीजावाद यानी नेपोटिज्म से जोड़कर देखा जा रहा था। 40 से अधिक लोगों से पूछताछ कर चुकी मुंबई पुलिस के हाथ अभी भी खाली हैं। वहीं सुशांत के पिता केके सिंह द्वारा बिहार में रिया चक्रवर्ती के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाने के बाद बिहार पुलिस इस मामले में तेजी दिखा रही है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.