अंपायर ने
बांग्लादेश और वेस्टइंडीज के बीच शनिवार को खेला गया टी-20 सीरीज का आखिरी मैच नो-बॉल की वजह से आठ मिनट तक रुका रहा। मैदानी अंपायर तनवीर अहमद की एक गलती की वजह से खिलाड़ी और अंपायर के बीच करीब आठ मिनट तक बहस चलती रही।
रिप्ले देखने पर पता चला कि यह गेंद लीगल थी, इसके बाद वेस्टइंडीज के कप्तान कार्लोस ब्रेथवेट अंपायर से बहस करने लगे। इसके बाद मैच रैफरी को भी बीच में आना पड़ा। वेस्टइंडीज के खिलाड़ी मैच खेलने के लिए तैयार नहीं थे और वह खेलने से मना कर रहे थे।
इसके बाद लगभग 8 मिनट तक चली इस बहस का अंजाम कुछ नया नहीं निकला और लिटन दास क्रीज पर बरकरार रहे। अगली गेंद उन्हें फ्री हिट मिली जिस पर बांग्लादेश को छक्का भी मिला। इस सिरीज के दूसरे मैच के दौरान भी तनवीर अहमद अपनी गलतियों की वजह से सुर्खियों में रहे थे।
बता दें कि शेर-ए-बांग्ला स्टेडियम में खेले गए तीसरे और आखिरी टी-20 मैच में मेजबान बांग्लादेश को 50 रनों से मात देकर सीरीज 2-1 से अपने नाम कर ली। पहले बल्लेबाजी करने उतरी विंडीज ने लुइस की तूफानी पारी की मदद से 19.2 ओवरों में 190 रन बनाए थे।

मेजबान टीम अच्छी शुरुआत के बाद भी लक्ष्य हासिल नहीं कर पाई और 17 ओवरों में 140 रनों पर ढेर हो गई। लुइस ने 36 गेंदों पर छह चौके और आठ छक्कों की मदद से तूफानी पारी खेली थी। उन्होंने 18 गेंदों पर ही अपना अर्धशतक पूरा कर लिया था।
लक्ष्य का पीछा करने उतरी बांग्लादेश ने चार ओवरों में तमिम इकबाल (8) के रुप में गंवाए एक विकेट के नुकसान 62 रना बना लिए थे। यहां से बांग्लादेश की हालत बिगड़ गई और अगले ओवर में उसने सौम्य सरकार (9) तथा शाकिब अल हसन (0) के रूप में दो विकेट खो दिए। यहां से टीम के लिए वापसी करना बेहद मुश्किल हो गया और टीम 50 रनों से हार गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.