पीवी नरसिम्हा राव
कांग्रेस ने ट्वीट किया था, “देश के 9वें प्रधानमंत्री पीवी नरसिम्हा राव ने लाइसेंस राज को समाप्त किया था और देश में अब तक का सबसे बड़ा आर्थिक सुधार किया था। उनके योगदान को देश हमेशा याद रखेगा। आज हम उनकी जयंती पर उनके प्रति सम्मान प्रकट करते हैं।”
हालांकि, जैसे ही कांग्रेस को अपनी गलती का एहसास हुआ। तत्काल पुराने ट्वीट को हटा दिया गया और फिर नया ट्वीट किया गया, “देश के 9वें प्रधानमंत्री पीवी नरसिम्हा राव ने लाइसेंस राज को खत्म किया था और देश में अब तक का सबसे बड़ा आर्थिक सुधार किया। देश के प्रति उनके योगदान को हमेशा याद रखा जाएगा।”
आज देश के 9वें प्रधानमंत्री पीवी नरसिम्हा राव की पुण्यतिथि है। उनका जन्म 28 जून 1921 को आंध्र प्रदेश के बांगरा गांव में हुआ था। वे 21 जून 1991 से लेकर 16 मई 1996 तक भारत के प्रधानमंत्री रहे। इससे पहले वे देश में गृहमंत्री, रक्षामंत्री, विदेश मंत्री, मानव संसाधन मंत्री भी रह चुके थे। 23 दिसंबर 2004 को वे इस दुनिया को अलविदा कह गए।
आज उनकी पुण्यतिथि के अवसर पर पूरे देश में उन्हें याद किया गया। कांग्रेस ने भी उनके प्रति सम्मान व्यक्त किया, लेकिन पार्टी से एक बड़ी चूक हो गई। कांग्रेस ने उनकी पुण्यतिथि की जगह जयंती बता दी।
इसके बाद सोशल मीडिया यूजर्स उन्हें ट्रोल करने लगे। हालांकि, बाद में गलती का पता लगने के बाद कांग्रेस ने अपनी भूल सुधार कर ली। लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी थी। कई यूजर्स ने इसका स्क्रीन शॉट ले लिया था।
यह भी पढ़ें: पाकिस्तान में हिंदू 23% से 2% हुए, इमरान सिखाएंगे अल्पसंख्यकों से बर्ताव करना?: गिरिराज सिंह
पीवी नरसिम्हा राव की पुण्यतिथि की जगह जयंती का ट्वीट किए जाने पर सोशल मीडिया यूजर्स ने कांग्रेस की जमकर खिंचाई की। एक यूजर ने लिखा, ” इस कांग्रेस को नरसिम्हा राव जी का कितना सम्मान है, यह उनके इस ट्वीट से ही पता चल जाता है।
बस सिर्फ रस्म अदायगी करना है। नरसिम्हा राव एकमात्र कांग्रेसी प्रधानमंत्री है जिसने इमानदारी से इस देश को आगे बढ़ाने की कोशिश की…। नमन है।” वहीं, एक अन्य यूजर ने कांग्रेस द्वारा पुराने ट्वीट को हटाने के बाद सवालिया लहजे में कहा कि इसे हटा क्यो दिए?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here