ईएसआइसी अस्पताल
मुंबई। मुंबई के अंधेरी इलाके के ईएसआइसी कामगार अस्पताल में सोमवार शाम अचानक आग लग गई, इस दौरान वहां अफरा-तफरी का माहौल बन गया।
जिसके चलते दुर्घटना में घायल एवं अस्पताल में पहले से भर्ती मरीजों को निकट के आधा दर्जन अस्पतालों में स्थानांतरित किया गया है।
ईएसआइसी कामगार अस्पताल में आग लगने से 8 लोगों की मौत हो गई है। इस हादसे में 100 से ज्यादा लोगों के घायल होने की खबर है।
दमकल विभाग को शाम चार बजे मिली सूचना के अनुसार अंधेरी उपनगर के मरोल स्थित ईएसआईसी कामगार अस्पताल की चौथी मंजिल स्थित ऑपरेशन थिएटर के सामने आग भड़की और देखते ही देखते पूरी चौथी मंजिल पर फैल गई।
यह भूतल सहित छह मंजिल का अस्पताल है। आग की सूचना मिलते ही दमकल विभाग की 10 गाड़ियां एवं आपदा प्रबंधन की टीम मौके पर पहुंच गई। लेकिन अस्पताल में भर्ती मरीजों एवं उनके परिजनों में अफरातफरी का माहौल था।
अस्पताल में उस समय भीड़ इसलिए भी ज्यादा थी, क्योंकि शाम को चार से सात के बीच ही भर्ती मरीजों से मिलने का समय होता है। आग से बचने के लिए कुछ लोग चौथी व पांचवीं मंजिल की खिड़की पर लटके देखे गए।
उन्हें ट्रॉली एवं सीढ़ी की मदद से नीचे उतारा गया। कुछ लोगों ने हड़बड़ी में चौथी मंजिल से छलांग लगा दी। जिसके चलते कुछ लोगों को फ्रैक्चर हो गया।
एमआईडीसी के एक अग्निशमन अधिकारी का कहना है कि अस्पताल का फायर ऑडिट 15 दिन पहले ही हुआ था, जिसमें वह फेल हो गया था। अस्पताल के स्प्रिंकल्स और आग की सूचना देनेवाले सेंसर ठीक से काम नहीं कर रहे थे।
आपदा प्रबंधन टीम के अनुसार अब तक छह लोगों को जान गंवानी पड़ी है और करीब 100 लोग जख्मी हुए हैं।
यह भी पढ़ें: फर्जीवाड़े का खुलासा, 400 रुपए में ट्रेन में खुलेआम कंबल बेच रहे हैं अटेंडेंट
जख्मी हुए 19 लोगों को कूपर अस्पताल में, 39 को बालासाहब ठाकरे अस्पताल में, 40 को होली फैमिली स्पिरिट अस्पताल में, 44 को सेवन हिल्स अस्पताल में, तीन को हीरानंदानी अस्पताल में और दो को सिद्धार्थ अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.