रामविलास पासवान
नई दिल्ली। लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) के अध्यक्ष पासवान ने तीन राज्यों में भाजपा की हार के लिए सत्ता विरोधी लहर को जिम्मेदार माना है। उन्होंने कहा कि
सत्ता विरोधी लहर के बावजूद मध्य प्रदेश और राजस्थान में भाजपा का वोट शेयर लगभग कांग्रेस के बराबर ही रहा। इन दोनों राज्यों में कांग्रेस को जीत हासिल हुई।

 

केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने आज कहा कि कुछ राज्यों में हाल ही में हुए विधानसभा चुनावों में भाजपा की हार का आने वाले लोकसभा चुनाव पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 2019 में जीत के लिए सत्ताधारी राजग का नेतृत्व करेंगे।
मंगलवार को चुनाव परिणामों की घोषणा के बाद अपनी पहली प्रतिक्रिया देते हुये दलित नेता पासवान ने कहा, इन परिणामों का लोकसभा चुनावों पर कोई असर नहीं पड़ेगा।
राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) बरकरार है और मोदी के नेतृत्व में यह 2019 में जीत हासिल कर केंद्र में अपनी सरकार बनाए रखेगा।
पासवान ने कहा कि लोकतंत्र में जनता के जनादेश का सदैव सम्मान किया जाता है। उन्होंने कहा कि अब इन तीनों राज्यों में कांग्रेस सत्ता में आई है और उसे वहां काम करना चाहिए।
गौरतलब है कि अगले साल होने वाले आम चुनाव से पहले भाजपा को राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में बड़ा झटका लगा है। तीनों राज्यों में उसे विधानसभा चुनावों में पराजय मिली और ये राज्य उसके हाथ से निकल गए।
यह भी पढ़ें: मोदी-राहुल पास होकर भी एक दूसरे से मिले तक नहीं
छत्तीसगढ़ में कांग्रेस ने एकतरफा जीत हासिल की, तो वहीं राजस्थान और मध्य प्रदेश में उसके और भाजपा के बीच कांटे की टक्कर रही। तेलंगाना और मिजोरम में भी भाजपा का प्रदर्शन बेहतर नहीं रहा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here